• Thu. Jul 7th, 2022

दाहोद में राहुल ने आदिवासी रैली को किया संबोधित, कांग्रेस नेताओं को सकारात्मक सोच की दी नसीहत

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को गुजरात के दाहोद में आदिवासी समाज की रैली को संबोधित किया. राहुल गांधी ने अपने संबोधन में पिछले कुछ दिनों से नाराज चल रहे गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल का भी नाम लिया. रैली को संबोधित करन के बाद राहुल गांधी जब मंच से नीचे उतरे, उन्होंने हार्दिक पटेल से बात भी की. राहुल गांधी और हार्दिक पटेल के बीच कुछ मिनट बातचीत हुई.

वहीं राहुल गांधी ने रैली से पहले कांग्रेस नेताओं और विधायकों के साथ बैठक भी की. तो वहीं इस बैठक में भी नरेश पटेल का मुद्दा उठा. कांग्रेस विधायकों ने ये मुद्दा उठाते हुए कहा कि जिस तरह पार्टी ने पीके को लेकर स्टैंड साफ किया, उसी तरह नरेश पटेल को लेकर भी अपना रुख साफ कर दे. इससे जो भ्रम और उहापोह की स्थिति बनी है, वह खत्म हो जाएगी. इस सबके बावजूद राहुल गांधी ने कांग्रेस नेताओं और विधायकों को सकारात्मक सोच के साथ जनता के बीच जाने का संदेश दिया.

राहुल गांधी ने ये संदेश भी दे दिया कि कोई भी व्यक्ति संगठन से बड़ा नहीं है, और पार्टी सबसे पहले आती है और कोई भी खुद को पार्टी से बड़ा न समझे. साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि राज्य सरकार को घेरने का ये सबसे सही समय है. इस समय प्रदेश और केंद्र की सरकार बैकफुट पर है. आम जनता महंगाई और सरकार की नीतियों से परेशान है. राहुल ने कहा कि 2017 में जब चुनाव प्रचार की शुरुआत की थी तब गुजरात कांग्रेस के नेता ही कह रहे थे कि जीत संभव नहीं है.

वहीं राहुल ने कहा कि कुछ दिन बाद यही नेता कहने लगे कि 50 से 60 सीटें आ जाएंगी और जब चुनाव नजदीक आया, हर नेता यह कह रहा था कि हम चुनाव जीत सकते हैं. उन्होंने नेताओं को सकारात्मक सोच के साथ चुनाव मैदान में, जनता के बीच जाने और असल नतीजों से पहले हार न मानने की नसीहत दी.

AAJ KEE KHABAR PURANI YAADEN

Latest news in politics, entertainment, bollywood, business sports and all types Memories .