भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शनिवार को दक्षिण बंगाल के विभिन्न हिस्सों में छिटपुट बारिश की भविष्यवाणी की है और उत्तरी बंगाल में पड़ने वाले जिलों के लिए रेड अलर्ट जारी किया है जहां अत्यधिक भारी बारिश की संभावना है. भारी बारिश के बाद इस क्षेत्र में नदियों का जलस्तर बढ़ सकता है। यह पूर्वानुमान ऐसे समय में आया है जब उत्तर बंगाल के जिलों में पिछले कुछ दिनों से लगातार बारिश हो रही है। लगातार हो रही बारिश से कई इलाके पानी में डूब गए हैं.

उत्तर बंगाल के मैदानी और पहाड़ी इलाकों में जलस्तर बढ़ने की आशंका है. उत्तर बंगाल के जलपाईगुड़ी, अलीपुरद्वार और कूचबिहार में आज 200 मिमी से अधिक बारिश होने की संभावना है। दार्जिलिंग, मालदा, उत्तर और दक्षिण दिनाजपुर जिलों में भी भारी बारिश की संभावना है। उत्तर बंगाल के जिलों के लिए जारी रेड अलर्ट का मतलब है कि निवासियों और अधिकारियों से प्रतिकूल मौसम की स्थिति के प्रभावों को कम करने के लिए ‘कार्रवाई’ करने का अनुरोध किया गया है.

दूसरी ओर, बीरभूम, पश्चिम बर्धमान, नदिया, मुर्शिदाबाद और कोलकाता और दक्षिण बंगाल के अन्य जिलों में गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। इन जिलों में रहने वाले लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिलने की संभावना है.वहीं कोलकाता में शनिवार को अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहा.

बता दें कि 2021 के मानसून सीजन को अब एक महीना पूरा हो गया है. बंगाल की खाड़ी से तेज नम दक्षिण-पश्चिमी हवाएं अब आगे बढ़ रही हैं और इसलिए उम्मीद है कि ये हवाएं अगले पांच दिनों में पूर्वोत्तर भारत और आसपास के क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी वर्षा जारी रखेंगी.