इस्कॉन के सदस्यों ने कोलकाता में बांग्लादेश में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के खिलाफ हिंसा की हालिया घटनाओं की निंदा करते हुए पोस्टर लगाए।

इस्कॉन कोलकाता के उपाध्यक्ष राधारमण दास ने कहा हमने संयुक्त राष्ट्र से संपर्क किया, उन्होंने बांग्लादेश हिंसा की निंदा की। दुनिया भर के नेता आवाज उठा रहे हैं। पिछले तीन दिनों में वहां मौत की कोई रिपोर्ट नहीं है। 23 अक्टूबर को हमने दुनिया भर में विरोध प्रदर्शन किया है। यहां भी हम विरोध और प्रार्थना सभा का आयोजन किया है।

जारी एक आधिकारिक बयान में वर्ल्डवाइड इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शियसनेस (इस्कॉन) ने कहा कि देश के कई जिलों में कई मंदिरों, घरों, दुकानों और व्यक्तियों पर हमला किया गया और हिंदू अल्पसंख्यक के कई निर्दोष सदस्य मारे गए।

इस्कॉन ने प्रधान मंत्री शेख हसीना सरकार से हिंसा को समाप्त करने के लिए त्वरित कार्रवाई करने का आह्वान किया और मांग की कि हमलों के अपराधियों को न्याय के कटघरे में लाया जाए। बांग्लादेश में अल्पसंख्यक धार्मिक स्थलों पर हमलों की एक श्रृंखला हुई। वर्ल्डवाइड इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शियसनेस (इस्कॉन) समुदाय बांग्लादेश में हिंदू अल्पसंख्यकों के खिलाफ हाल ही में हुई हिंसक घटनाओं की श्रृंखला से स्तब्ध और दुखी है, जिसमें हमारे अपने इस्कॉन मंदिर और सदस्य भी शामिल हैं।