केरल में भारी बारिश के कारण इडुक्की और कोट्टायम जिलों में भूस्खलन से छह लोगों की मौत हो गई है। भगवान अयप्पा के भक्तों को आज और कल सबरीमाला मंदिर जाने से बचने के लिए कहा गया है। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। केरल के अधिकांश हिस्सों में बारिश की तीव्रता सुबह तक कम हो गई है, हालांकि, रात भर लगातार बारिश होती रही।

वहीं मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने बचाव प्रयासों को तेज करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की और कहा कि कोट्टायम सहित राज्य में भारी बारिश के कारण बाढ़ वाले क्षेत्रों में फंसे लोगों को निकालने के लिए हर संभव साधन का इस्तेमाल किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए हैं कि कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए कैंप शुरू किए जाएं. उन्होंने कहा कि शिविरों में मास्क, सैनिटाइजर, पीने का पानी, दवाएं उपलब्ध कराई जाएं। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को सह-रुग्णता है और जिन्होंने टीकाकरण नहीं लिया है, उन्हें सावधानी बरतनी चाहिए।