उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, जिन्होंने विधानसभा चुनाव से पहले योगी आदित्यनाथ सरकार और सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से इस सप्ताह इस्तीफा दे दिया, उन्होंने शुक्रवार को कहा कि राज्य के पूर्व कैबिनेट मंत्री दारा सिंह चौहान रविवार को समाजवादी पार्टी (सपा) में शामिल हो जाएंगे। दारा सिंह चौहान ने बुधवार को उत्तर प्रदेश कैबिनेट के मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।

एएनआई से बात करते हुए मौर्य ने कहा रणनीति के अनुसार दारा सिंह चौहान 16 जनवरी को शामिल होंगे और हर दिन शामिल होंगे। कार्यक्रम पार्टी कार्यालय के अंदर था और हम सभी COVID प्रोटोकॉल का पालन कर रहे थे। सपा नेता ने आगे कहा कि हम 14 साल पहले की तरह 2017 से पहले बीजेपी को वनवास भेजने की योजना बना रहे हैं। मौर्य ने कहा 10 मार्च को जब चुनाव के नतीजे आएंगे, तो यूपी से बीजेपी का सफाया हो जाएगा और सपा सरकार बनाएगी।

वहीं मंत्री पद छोड़ने के बाद धरम सिंह सैनी ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की। यादव ने कहा कि मैं समाजवादी पार्टी में उनका स्वागत करता हूं। स्वामी प्रसाद मौर्य के मंत्रिमंडल छोड़ने के साथ ही इस्तीफे का सिलसिला शुरू हो गया। ओबीसी समुदाय के एक प्रमुख नेता मौर्य बसपा से भाजपा में शामिल हुए थे।

तो वहीं दारा सिंह चौहान ने बुधवार को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। धर्म सिंह सैनी गुरुवार को तीसरे मंत्री बने। समाजवादी पार्टी ने विधानसभा चुनावों के लिए छोटे दलों का गठबंधन किया है और राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा की मुख्य प्रतिद्वंद्वी के रूप में उभरी है।

इससे पहले भाजपा विधायक मुकेश वर्मा, विनय शाक्य, अवतार सिंह भड़ाना, रोशन लाल वर्मा, बृजेश प्रजापति और भगवती सागर ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 10 फरवरी से 7 मार्च तक सात चरणों में होंगे। उत्तर प्रदेश में मतदान 10 फरवरी, 14, 20, 23, 27 फरवरी और 3 और 7 मार्च को होगा।