भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने जनता को पुराने नोटों और सिक्कों को खरीदने/बेचने के फर्जी प्रस्तावों के झांसे में न आने की चेतावनी दी है. भारतीय रिजर्व बैंक के संज्ञान में आया है कि कुछ तत्व धोखाधड़ी से आरबीआई के नाम पर लोगो का उपयोग कर जनता से शुल्क कमीशन कर की मांग कर रहे हैं, विभिन्न ऑनलाइन माध्यमों से पुराने बैंक नोटों और सिक्कों की खरीद और बिक्री से संबंधित लेनदेन में  ऑफलाइन प्लेटफॉर्म की केंद्रीय बैंक ने एक अधिसूचना में कहा.

जहां यह स्पष्ट किया जाता है कि भारतीय रिजर्व बैंक ऐसे मामलों से निपटता नहीं है और कभी भी किसी प्रकार के शुल्क कमीशन की मांग नहीं करता है. आरबीआई ने इस तरह के लेनदेन में अपनी ओर से शुल्क कमीशन लेने के लिए किसी संस्थान फर्म व्यक्ति आदि को अधिकृत नहीं किया है.

केंद्रीय बैंक ने जनता के सदस्यों को सतर्क रहने और ऐसे फर्जी प्रस्तावों के माध्यम से धन निकालने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक के नाम का उपयोग करने वाले तत्वों के शिकार न होने की सलाह दी.