विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख टेड्रोस अदनोम ने दुनिया को कोरोना की तीसरी लहर को लेकर बड़ी चेतावनी दी है. उन्होंने चेतावनी दी कि कोरोनावायरस की तीसरी लहर प्रारंभिक चरण में पहुंच गई है. दुनिया भर में डेल्टा वेरिएंट ने पहले ही कहर बरपाना शुरू कर दिया है और पिछले तीन दिनों से भारत में मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है. दुनिया भर में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं और WHO ने दुनिया भर में चिंता जताई है. डेल्टा संस्करण दुनिया भर के 111 देशों में पहुंच गया है. दुनिया भर के कई देश COVID-19 महामारी की तीसरी लहर देख रहे हैं.

टेड्रोस ने कहा कि डेल्टा संस्करण जल्द ही दुनिया में सबसे खतरनाक संस्करण बन जाएगा, ऐसा इसलिए है क्योंकि कोरोना वायरस लगातार विकसित हो रहा है और अपना रूप बदल रहा है. इसने दुनिया भर में तेजी से संक्रमण के रूपों को जन्म दिया है.  टीकाकरण शुरू होने के बाद से कुछ समय से कोरोना के मामलों में कमी आ रही है, लेकिन अब मामले फिर से बढ़ रहे हैं.

पिछले चार हफ्तों में पांच देशों में कोरोनावायरस के मामले बढ़े हैं.  दुनिया में मरने वालों की संख्या में भी 10 हफ्ते की गिरावट आई थी.  अब यह फिर से बढ़ रहा है.  दुनिया भर में कुल कोविड केसिया 18.82 करोड़ मरीज हैं. 40.5 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। 349 करोड़ लोगों को टीका लगाया गया है. CSSE के अनुसार, संयुक्त राज्य अमेरिका में दुनिया में सबसे ज्यादा मरीज हैं और मरने वालों की संख्या अधिक है.

अमेरिका में 33,946,217 मरीज मिले हैं. जबकि 608,104 की मौत हो चुकी है. भारत दूसरे स्थान पर है. 30,946,074 मरीज मिले हैं. इसके बाद ब्राजील (19,209,729), फ्रांस (5,884,395), रूस (5,785,542), तुर्की (5,500,151), यूके (5,252,443), अर्जेंटीना (4,702,657), कोलंबिया (4,565,372), इटली (4,86,2) का स्थान है.