भारत की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि निरंतर सुधारों से देश में कारोबार के लिए शानदार स्थान बना है. सीतारमण गुरुवार को वैश्विक निवेशकों से बोली वे हाल में किए गए एफडीआई सुधार, निजीकरण नीति और प्रदर्शन आधारित प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना का लाभ उठाएं.


बता दें कि अमेरिका-भारत रणनीतिक साझेदारी मंच (यूएसआईएसपीएफ) के जरिए आयोजित वैश्विक निवेशक गोलमेज सम्मेलन में वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा कि राजकोष की स्थिति नियंत्रण में है और इसमें और सुधार होने की उम्मीद है और भारत की अर्थव्यवस्था का आधार मजबूत है. वहीं यूएसआईएसपीएफ इन्वेस्टर्स मीट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने COVID संक्रमणों में गिरावट के साथ ही भारत सरकार के जरिए उठाए गए राहत और सुधारों के बारे में जानकारी दी.

इसी के साथ  वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा कि विकास के अवसरों और निवेश के मामले में भारत के व्यापक सुधारों के कारण, भारत विदेशी निवेशकों के लिए आकर्षक गंतव्य बना हुआ है. मैक्रो-इकोनॉमिक स्टेबिलिटी, इंफ्रास्ट्रक्चर-आधारित आर्थिक विकास के अवसर, वित्तीय क्षेत्र में सुधार और वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला में एक मजबूत खिलाड़ी के रूप में स्थिति भारत को वैश्विक आर्थिक शक्ति के रूप में उभरती है.