लोकसभा चुनाव 2024 से पहले राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष शरद पवार  मंगलवार को गैर-कांग्रेसी विपक्षी दलों की बैठक की मेज़बानी करेंगे. बता दें कि पवार ने पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी के खिलाफ ‘एकजुट’ होने के संभावना तलाशने के लिए विपक्षी पाटियों की यह बैठक बुलाई है. जहां पहले दौर में शरद पवार   मंगलवार शाम नई दिल्ली स्थित अपने आवास पर कुछ राजनीतिक दलों के नेताओं और विभिन्न क्षेत्रों के अन्य प्रमुख विशेषज्ञों से मुलाकात करेंगे. ये जानकारी एनसीपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने दी है. 

बता दें कि गैर-कांग्रेस विपक्षी दलों के नेता कल शाम 4:00 बजे शरद पवार से मिलेंगे. इन राजनीतिक नेताओं में तृणमूल कांग्रेस के यशवंत सिन्हा, जेडीयू के पूर्व नेता पवन वर्मा, आम आदमी पार्टी के संजय सिंह, नेशनल कांफ्रेंस के फारूक अब्दुल्ला, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के डी राजा और अन्य शामिल हो सकते हैं. इसके अलावा, न्यायमूर्ति एपी सिंह जावेद अख्तर, केटीएस तुलसी, करण थापर, आशुतोष, ए मजीद मेमन, वंदना चव्हाण, एसवाई कुरैशी, केसी सिंह, संजय झा, सुधींद्र कुलकर्णी, कॉलिन गोंसाल्वेस, घनश्याम तिवारी और प्रीतिश नंदी सहित अन्य भी शामिल हो सकते हैं.

वहीं इससे पहले शरद पवार ने प्रशांत किशोर ने दूसरी बार मुलाकात की आम चुनाव के मद्देनजर नरेंद्र मोदी की भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ विपक्षी अलायंस की चर्चाओं ने जोर पकड़ा है. जानकारी के मुताबिक शरद पवार और प्रशांत किशोर के बीच यह मुलाकात दिल्‍ली में हुई, इससे पहले दोनों 11 जून को एनसीपी प्रमुख के मुंबई स्थित आवास पर मिले थे. रविवार की बैठक करीब आधे घंटे चली थी, इससे पहले 11 मई को हुई बैठक करीब चार घंटे तक चली थी. सूत्रों के अनुसार, बैठक में वर्ष  2024 के लोकसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस और बीजेपी विहीन तीसरे फ्रंट और पीएम मोदी को चुनौती देने के लिए विपक्ष के संयुक्‍त पीएम उम्मीदवार के बारे में बात हो सकती है.