बरौली विधानसभा सीट से भाजपा विधायक के कार्यालय पर काम करने वाले उनके गुर्गे वीपी पर एक किशोरी के साथ बलात्कार का मुकदमा दर्ज किया गया है. जहां बलात्कार की शिकार किशोरी पीड़िता ने गुरूवार को राज्यमंत्री से न्याय की गुहार लगाई गई. तो वही अलीगढ़ एसएसपी ने सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए गए है. तो वही छात्रा ने कहा अगर हिंदुस्तान का न्याय है कि बेटी ही मरणी चाहिए तो बेटी मरेगी. जहा न्याय न मिलने पर पीड़िता ने 24 घंटे में आत्महत्या करने की भी बात कही है.

बता दें कि उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के थाना गभाना इलाके में बरौली विधानसभा सीट से भाजपा विधायक ठाकुर दलवीर सिंह के कार्यालय पर रहने वाले एक युवक ने अपने साथियों के साथ मिलकर एक परचून की दुकान से ट्यूशन पढ़ाकर लौटते समय सामान खरीद रही, किशोरी को जबरन परचून की दुकान से उठाकर उस पीड़ित किशोरी को एक कमरे पर ले गए. जहा कमरे पर ले जाने के बाद कमरा बंद कर उसके साथ बेरहमी से पिटाई की. मारपीट से बदहवास किशोरी ने जब दरिंदों के चुंगल से अपने आप को बचाने के लिए चीखी चिल्लाई तो उन लोगों ने अपने हांथों से मुंह बंद कर पीड़ित किशोरी के साथ जबरन बलात्कार कर उन लोगों ने अपनी हवस का शिकार बनाते हुए बलात्कार की घटना को अंजाम दिया.

जिसके बाद बलात्कार की शिकार पीड़िता किशोरी ने आधा दर्जन आरोपी युवकों के खिलाफ जबरन बलात्कार करने का सनसनीखेज आरोप लगाते हुए थाने में मुकदमा दर्ज कराया है. वहीं पीड़ित किशोरी की दी गई तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ थाना गभाना में धारा (147,148,376,511,323,506,352) के तहत पुलिस ने तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है.

वहीं अलीगढ़ एसएसपी कलानिधि नैथानी ने इस पूरे मामले की गंभीरता को समझते हुए तत्काल एसपी सिटी कुलदीप सिंह गुनावत को आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए हैं.

पीड़ित किशोरी का आरोप है कि समाचार पत्र से जुड़ा व्यक्ति जब घटनास्थल पर इन लोगों के पास पहुंचा तो उसने अपनी पत्रकारिता की धमक दिखाते हुए इलाका पुलिस और बड़े बड़े लोगों से अपने तालुकात बताते हुए रिपोर्ट और वारदात को घटनास्थल से बाहर नही जाने देने की उसको धमकी दी गई. जिसके बाद पीड़ित किशोरी ने थाना गभाना में पहुंच कर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए तहरीर दी. पुलिस ने किशोरी द्वारा दी गई तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया.