महाराष्ट्र में पिछले कुछ समय से कोरोना के नये मामलों में गिरावट देखी जा रही है. लेकिन कोरोना का संकट अभी टला नहीं है. जहां राज्य में शनिवार को पिछले 24 घंटे में कोरोना के 53,605 नये केस दर्ज हुए हैं, जबकि इसी दौरान 864 लोगों की लोगों की मौत दर्ज हुई है. ताजा आंकड़ों के मुताबिक इस अवधि में 82,266 रिकवर भी हुए हैं.

बता दें कि समाचार एजेंसी ANI ने महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग के ताजा बुलेटिन के हवाले से बताया कि राज्य में कुल 50,53,336 संक्रमितों की संख्या हो चुकी हैं, जबकि 43,47,592 मरीज रिकवर भी हुए हैं. वहीं, राज्य में अब तक कोरोना से 75,277 लोगों की जान जा चुकी है. वहीं आंकड़ों के मुताबिक इस वक्त 6,28,213 एक्टिव केस मौजूद हैं. इससे पहले शुक्रवार को कोरोना के 54,022 नए मामले रिपोर्ट किए गये थे, जबकि कोरोना संक्रमण से 898 मरीजों की मौत हुई थी.

अगर मुंबई की बात करें तो शहर में आज कोरोना के 2678 नये केस दर्ज हुए है. जबकि 62 लोगों की मौत हुई है और 3608 रिकवर हुए हैं. ताजा आंकड़ों के मुताबिक मुंबई में 6,74,072 कुल केस मौजूद हैं और अभी तक कुल 13,749 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि शहर में 48,484 एक्टिव केस मौजूद है. हालांकि पिछले दिनों की तुलना में शहर में कोरोना से काफी राहत है. इससे पहले शुक्रवार को मुंबई में संक्रमण के 3040 नए मामले आए थे और 71 और मरीजों की मौत हुई थी. पुणे, नासिक, कोल्हापुर और सांगली जिलों में चारों शहरों की तुलना में ग्रामीण इलाके से संक्रमण के ज्यादा मामले आ रहे हैं.

हालांकि कोरोना की तीसरी लहर आने को लेकर भी आशंका जताई जा रही है. माना जा रहा है कि कोरोना की तीसरी लहर बच्चों को अपनी चपेट में ले सकती है और उनके लिए खतरनाक साबित हो सकती है. जिसे लेकर महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा था, “तीसरी लहर 18 साल से छोटे बच्चों के लिए घातक हो सकती है. हम बच्चों की कोविड से देखभाल के लिए चाइल्ड कोविड केयर सेंटर बना रहे हैं. बच्चों को अलग वेंटिलेटर बेड और अन्य चिकित्सा उपकरणों की आवश्यकता होती है.