भाजप के केंद्रीय नेतृत्व ने असम में अगली सरकार के नेतृत्व को लेकर चर्चा करने के लिए असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल और स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्व सरमा को शुक्रवार को दिल्ली बुलाया है. सूत्रों ने यह जानकारी दी. असम में विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले गठबंधन को जीत मिली है. जानकारी के मुताबिक, सर्वानंद सोनोवाल और हिमंत बिस्व सरमा की बैठक शनिवार को भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा के महासचिव बीएल संतोष और अन्य नेताओं के साथ होने वाली है.

वहीं उन्होंने बताया कि फिलहाल यह पता नहीं चल पाया है कि बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद रहेंगे या नहीं. असम भाजपा के प्रवक्ता रूपम गोस्वामी ने कहा कि सोनोवाल और सरमा अगली सरकार के गठन पर चर्चा के लिए शनिवार को नयी दिल्ली के लिए रवाना होंगे.

गौरतलब है कि पांचवीं बार विधानसभा चुनाव जीतने के बाद असम के वरिष्ठ मंत्री एवं भाजपा नेता हिमंत बिस्व सरमा ने कहा था कि वह इस बारे में बात नहीं करना चाहते हैं कि कौन राज्य का अगला मुख्यमंत्री बनेगा, क्योंकि यह निर्णय पार्टी का संसदीय बोर्ड करेगा.

बता दें कि असम में लगातार दूसरी बार सत्ता पर काबिज होने वाली बीजेपी को विधानसभा चुनाव में 33.21 प्रतिशत मत हासिल हुए हैं. बीजेपी को जहां विधानसभा चुनाव में 126 में से 60 सीटों पर जीत मिली है तो वहीं उसके सहयोगी दलों असम गण परिषद (एजीपी) को नौ और यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी (लिबरल) को छह सीटों पर जीत हासिल हुई.

भाजपा ने 2016 में विधानसभा चुनाव से पहले तत्कालीन केंद्रीय मंत्री सर्वानंद सोनोवाल को मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में पेश किया था लेकिन इस बार उसने इस शीर्ष पद के लिए किसी नाम की घोषणा नहीं की. ऐसी अटकलें हैं कि हिमंत बिस्व सरमा नए मुख्यमंत्री होंगे.