यूपी के बलिया जनपद के जिला चिकित्सालय में एक तरफ जहां ऑक्सीजन नहीं मिल पाने की वजह से मरीजों की मौत को लेकर नाराज तीमारदार सीएमएस के चैंबर में तोड़फोड़ और गाली गलौज तक कर रहे है. वहीं दूसरी तरफ जिला चिकित्सालय में करोड़ो रूपये खर्च कर ट्रामा सेंटर में लगा 5 बेड का वेंटीलेटर सिर्फ मैन पावर की कमी की वजह से धूल फांक रहा है. जबकि ऑक्सीजन न मिलने की वजह से इस अस्पताल में भर्ती मरीजों की मौत हो रही है. वहीं मुख्य चिकित्सा अधीक्षक की माने तो ट्रामा सेंटर में वेंटीलेटर लगा हुआ है और वह फंक्शनल भी है, लेकिन चुकी ट्रामा सेंटर मैन पॉवर की कमी के कारण अभी आरंभ नही हो सका है. जब ट्रामा सेंटर आरंभ होगा तो वह भी कार्य करना शुरू कर देगा.

बता दें कि खाली पड़े बेड के बगल में लगा वेंटीलेटर मशीन की तस्वीरें यूपी के बलिया के जिला चिकित्सालय में बने ट्रामा सेंटर की है, जो वर्षों पहले बन कर तैयार हो गया और उसमें 5 बेड का वेंटीलेटर भी लगा दिया गया है. मगर यहां लगा वेंटीलेटर आज भी बंद पड़ा धूल फांक रहा है. वह भी उस वक्त जब अस्पताल ऑक्सीजन की समस्या से जूझ रहा है. जिला अस्पताल की खस्ता हालत सिर्फ इतनी ही नही है. 1 मई से 18 साल के ऊपर के उम्र वालों के लिए शुरू होने वाला वैक्सीनेशन आज यहां शुरू भी हो पायेगा या नहीं अब तक कन्फर्म नही हो पाया है.

हालांकि जिला चिकित्सालय के टीकाकरण केंद्र पर वैक्सीन लगवाने वालों जुटी भीड़ में लोग वैक्सीन लगवाते दिखाई दिए. वही सीएमएस. की माने तो ट्रामा सेंटर में वेंटीलेटर लगा हुआ है और वह फंक्शनल भी है लेकिन चुकी ट्रामा सेंटर मैन पॉवर की कमी के कारण अभी आरंभ नही हो सका है. जब ट्रामा सेंटर आरंभ होगा तो वह भी कार्य करना शुरू कर देगा. 45 साल से ऊपर वालों को वैक्सीन लगाई जा रही है. पहली तारीख से 18 साल के ऊपर के लोगों को वैक्सीन लगना था. इसके लिए अभी मीटिंग चल रही है. जब कन्फर्म हो जाएगा तो बताया जाएगा.