वरिष्ठ पत्रकार और आजतक के एंकर रोहित सरदाना नहीं रहे. आज दोपहर उनका हार्ट अटैक के चलते निधन हो गया. उनके परिवार में उनकी पत्नी और दो बेटियां है. उनके निधन की खबर सुनकर मीडिया जगत में शोक की लहर दौड़ गई है. रोहित को कुछ दिनों पहले कोविड संक्रमण हुआ था, और आज दोपहर उनका हार्ट अटैक से नोएडा के मैट्रो अस्पताल में उनका निधन हो गया.

हरियाणा के कुरुक्षेत्र से आने वाले रोहित के नाम बेस्ट एंकर के NT Award और ENBA Award के साथ-साथ हिंदी पत्रकारिता का प्रतिष्ठित गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार भी है. रोहित सरदाना भारत के सबसे ज़्यादा पसंद किए जाने वाले, ऊर्जावान एंकर थे.न्होंने डेढ़ दशक के अपने करियर में ऑल इंडिया रेडियो में बतौर उद्घोषक पहले अपनी आवाज़ घर-घर पहुंचाई और उसके बाद ईटीवी, सहारा समय, जी न्यूज़ और फिर आजतक में अपने विशेष तेवरों वाली एंकरिंग से घर-घर में अपनी पहचान बनाई.

वो हिंदी के सबसे तेजतर्रार एंकरों में गिने जाते थे. आजतक के प्राइम टाइम शो, दंगल के एंकर के तौर पर रोहित ने टीवी एंकरिंग में वो मुकाम हासिल किया, जो बहुत कम लोगों को हासिल हुआ है. इससे पहले वो जी न्यूज में एक पापुलर शो के एंकर भी रहे थे.

रोहित के निधन पर कई पत्रकारों ने ट्वीट कर शोक जताया है. रोहित सरदाना के निधन को लेकर वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने ट्विटर पर लिखा, ”बहुत ही भयानक समाचार है. जाने-माने टीवी न्यूज एंकर रोहित सरदाना का निधन हो गया है. आज सुबह दिल का दौरा पड़ा. उनके परिवार के प्रति गहरी संवेदना.

वहीं आजतक मीडिया संस्थान से जुड़ी पत्रकार चित्रा त्रिपाठी ने लिखा, ”हंसता-खेलता परिवार, दो छोटी बेटियाँ. उनके लिए इस दंगल को हारना नहीं था रोहित सरदाना जी. आज सुबह चार बजे नोएडा के निजी अस्पताल में ICU में आपको ले ज़ाया गया और दिन चढ़ने के साथ ये बहुत बुरी खबर. कुछ कहने को अब बचा ही नहीं.

वरिष्ठ पत्रकार सुधीर चौधरी ने लिखा कि अब से थोड़ी देर पहले हमारे साथी का फोन आया. उसने जो कहा सुनकर मेरे हाथ कांपने लगे. हमारे मित्र और सहयोगी रोहित सरदाना की मृत्यु की ख़बर थी. ये भगवान की नाइंसाफ़ी है. ॐ शान्ति.

पत्रकारों के अलावा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ, मोदी सरकार में मंत्री स्मृति ईरानी समेत कई बड़े राजनेताओं ने भी उनके निधन पर शोक जताया है.