अलीगढ़ के कोविड-19 अस्पताल एसजेडी में कल शाम कुछ ही घंटों के अंदर एक के बाद एक 5 मरीजों की मौत हो गई. पांचो मरीज वेंटीलेटर पर थे. मृतकों के परिजनों ने ऑक्सीजन की कमी से मौत होने का आरोप लगाया है, तो वहीं प्रशासन ने उनके आरोप को सिरे से खारिज किया है. आधी रात के बाद तक अस्पताल में परिजनों का हंगामा जारी था.

दरअसल अलीगढ़ के धनीपुर मंडी के पास एस जे डी मेमोरियल कोविड-19 अस्पताल में 40 बेड की सुविधा है. यहां पर कोविड संक्रमित मरीजों को उपचार चल रहा है. कल शाम कुछ ही घंटों के अंदर यहां 5 मरीजों की मौत हो गई. जिसके बाद वहां खलबली मच गई. मृतकों के परिजनों ने अस्पताल प्रशासन पर ऑक्सीजन की कमी से मौत होने का आरोप लगाया है. मौके पर अपर सिटी मजिस्ट्रेट पुलिस फोर्स के साथ पहुंच गए और लोगों को समझाने की कोशिश की. लोगों का आरोप था कि यहां पर ऑक्सीजन की कमी थी जिससे मरीजों की मौत हुई.

बता दें कि अस्पताल में मरने वालों में जयगंज की 54 वर्षीय सरिता रानी, अकराबाद के रहने वाले 30 वर्षीय मुकेश, मथुरा में प्राथमिक शिक्षक के रूप में तैनात महेंद्र नगर निवासी 50 वर्षीय अनिल कश्यप, सिकंदराराऊ के शिक्षामित्र 50 वर्षीय जयवीर एवं ललित प्रसाद शामिल है. वहीं आरोप है कि अस्पताल में आनन फानन में सिलेंडर मरीजों की मौत के बाद मंगाए गए. आखिर प्रशासन इतना लापरवाह कैसे हो गया और अपनी जिम्मेदारी से कैसे पल्ला झाड़ रहा है. क्यों एसीएम कैमरे पर जवाब नही दे रहे. क्या अपनी नाकामी छिपाना चाहता है प्रशासन.