होंडा कार्स इंडिया ने फ्यूल पंप में खराबी के बाद बदलने के लिए शुक्रवार को भारत में करीब 78,000 कारों को रिकॉल किया है. एचसीआईएल ने एक बयान में कहा कि इन वाहनों में लगाए गए फ्यूल पंप में डिफेक्टिव इम्पैलर्स हो सकते हैं, जिससे कार का इंजन अचानक बंद हो सकता है या यह चालू होने में समस्या हो सकती है. जिसमें 77,954 कारों का खराब फ्यूल पंप बदला जाएगा, बता दें कि सभी प्रभावित कारों का उत्पादन 2019 से 2020 के बीच किया गया है. इस रिकॉल को कई पड़ावों में लागू किया जाएगा जिसकी शुरुआत 17 अप्रैल 2021 से की जाएगी

साथ ही होंडा कार्स इंडिया के अधिकृत डीलर्स प्रभावित वाहनों के मालिकों से संपर्क कर रहे हैं और ग्राहकों के वाहन में पुर्ज़ा बदलने का काम मुफ्त में किया जाएगा. कंपनी का कहना है कि वर्तमान में सुरक्षा नियमों के चलते डीलरशिप पर सिर्फ सीमित स्टाफ मौजूद है, ऐसे में ग्राहकों को सलाह दी जाती है कि डीलरशिप पर जाने से पहले डीलर से पहले ही समय लेकर जाएं, ताकि किसी तरह की परेशानी ना हो. जिन कारों को वापस बुलाया गया है, उननें अमेज, चौथी जनरेशन की सिटी, डब्ल्यूआर-वी, जैज, सिविक, बीआर-वी और सीआरवी शामिल हैं.

किस मॉडल की कितनी कारें खराब हैं देखिए