बहुत शीघ्र ही 70 साल उम्र तक के बुजुर्ग राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (NPS) योजना में निवेश कर सकेंगे. बता दें कि पेंशन फंड रेगुलेटर PFRDA ने NPS से जुड़ने की उम्र सीमा बढ़ाने का प्रपोजल दिया है. जहां पीएफआरडीए की योजना एनपीएस से जुड़ने की उम्र सीमा 65 साल से बढ़ाकर 70 साल करने की है.

इसके साथ ही पेंशन रेग्युलेटर ने मिनिमम गारंटीड पेंशन प्रोडक्ट को भी तैयार करने का सुझाव दिया गया है. जो एनपीएस के दायरे में आएगा. वहीं वर्तमान में नेशनल पेंशन सिस्टम के अंतर्गत पेंशन कितनी होगी ये इस बात पर निर्भर करेगा कि पेंशन फंड में कितना जमा किया गया है, साथ ही इस फंड का प्रदर्शन कैसा रहा है. जहा ये माना जा रहा है कि अगले 15-20 दिनों के भीतर एक ऐसे प्रोडक्ट को लेकर रिक्वेस्ट फॉर प्रपोजल डाला जाएगा.

वहीं पेंशन फंड गतिव्यवस्थापक ने यह भी प्रस्ताव दिया है कि जो लोग 60 साल की उम्र के बाद NPS में निवेश करते हैं वो अपना निवेश 75 साल तक जारी रख सकेंगे. और अन्य सभी निवेशकों के लिए आयु सीमा 70 साल तय की गई है. बता दें कि बीते 3.5 साल में NPS से 15,000 हजार ऐसे लोग जुड़े हैं जिनकी उम्र 60 साल से अधिक रही है. PFRDA के अध्यक्ष सुप्रीम बंद्योपाध्याय ने कहा कि इसको देखते हुए हमने उम्र बढ़ाने का प्रस्ताव दिया है.

वहीं PFRDA इसके अलावा ये भी देख रहा है कि अगर किसी का पेंशन फंड 5 लाख रुपये से कम है तो वह फंड से 100 फीसदी निकाल सके. हालांकि अभी 2 लाख रुपये से कम पेंशन फंड होने पर ये नियम लागू है. इससे अधिक रकम की निकासी पर 40 फीसदी फ्री और 60 फीसदी पर टैक्स देना होता है. अब यह रकम पूरी तरह टैक्स फ्री भी होगा.