शेयर बजार में 13 अप्रैल को शुरुआती कारोबार में 4 फीसदी बढ़त के साथ खुला. हालांकि बजार में सोमवार को भारी गिरावट दर्ज की गई. लेकिन मंगलवार को शेयर बाजार हरे निशान पर खुला. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स करीब 108.15 अंकों की तेजी के साथ 47,991.53 के स्तर पर खुला. वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 54.1 अंक की बढ़त के साथ 14,364.90 के स्तर पर खुला. 

बता दें कि पिछले कारोबारी दिन में बाजार में बिकवाली रही और साल 2021 की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 1707.94 अंक यानी 3.44 फीसदी नीचे 47883.38 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 524.05 अंक यानी 3.53 फीसदी की गिरावट के साथ 14310.80 के स्तर पर बंद हुआ. इस गिरावट से निवेशकों के आठ लाख करोड़ रुपये से ज्यादा डूब गए.

वहीं घरेलू शेयर बाजार में शेयरों का भाव बढ़ने से निवेशकों की संपत्ति में वित्त वर्ष 2020-21 में 90,82,057.95 करोड़ रुपये की वृद्धि हुई। इस दौरान बीएसई 30 सेंसेक्स में 68 फीसदी की वृद्धि हुई. इस अभूतपूर्व तेजी के दौर में सेंसेक्स 20,040.66 अंक या 68 फीसदी लाभ में रहा. कोविड-19 महामारी की वजह से आर्थिक जगत में विभिन्न व्यवधानों और अनिश्चितताओं के बावजूद स्थानीय शेयर बाजार जबरदस्त तेजी में रहा.