गैंगस्टर और मऊ के बीएसपी विधायक मुख्तार अंसारी को यूपी पुलिस का काफिला पंजाब की रोपड़ जेल से बांदा जेल ले आया है, और मुख्तार अंसारी बांदा जेल पहुंच चुके हैं जहां उन्हें अब 16 नंबर बैरक में रखा जाएगा.

दरसअल पंजाब के रोपड़ जेल से मंगलवार दोपहर मुख्तार को लेकर यूपी पुलिस का काफिला अब आखिरकार बांदा जेल पहुंच चुका है. लगातार चले इस काफिले को एक दो जगह रुकते हुए देखा गया. रोपड़ जेल से निकलने के बाद लगातार 6 घंटे तक ये काफिला चला और फिर जेवर पेट्रोल पंप पर रुका. इस दौरान मुख्तार की एंबुलेंस को चारो तरफ से पुलिसवालों ने बंदूक तानकर घेरा.

वहीं कारागार मंत्री जय कुमार ने बताया कि मुख्तार को किसी भी तरीके की वीआईपी सुविधा नहीं दी जाएगी. वहीं, बांदा जेल में पहली बार ड्रोन कैमरे से निगरानी रखे जाने की बात सामने आ रही है. कहा जा रहा है कि बैरक नबंर-16 को पूरी तरह सीसीटीवी कैमरे से कवर किया गया है. इन लगे कैमरों के जरिए मुख्तार पर पूरी तरह नजर रखी जाएगी साथ ही उनके द्वारा हर गतिविधी पर अधिकारी निगरानी करेंगे.

साथ ही मुख्तार के बैरक और उसके सामने केवल वहीं जेल कर्मी जा सकेंगे जिन्होंने बॉडी वॉर्न कैमरा पहना होगा. साथ ही बताया जा रहा है कि इस मामले को देखते हुए बांदा जेल को 30 सुरक्षाकर्मी भी दिए गए हैं.