सोमवार को अमेरिकी मुद्रा की मजबूती और कच्चे तेल के दाम बढ़ने से शुरुआती कारोबार में डालर के मुकाबले रुपया 14 पैसे गिरकर 73.16 रुपये प्रति डालर पर रहा. साथ ही अंतर बैंक विदेशी मूद्रा विनिमय बाजार में डालर के मुकाबले रुपये में कारोबार की शुरुआत 73.13 रुपये प्रति डालर पर हुई. उसके कुछ देर बाद ही यह और गिरकर 73.16 रुपये प्रति डालर पर पहुंच गया. यह दर पिछले कारोबारी सत्र के बंद भाव के मुकाबले 14 पैसे नीचे रही. शुक्रवार को रुपया 73.02 पर बंद हुआ था.

बता दें कि इस बीच दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के समक्ष डालर की मजबूती को आंकने वाला डालर सूचकांक 0.07 प्रतिशत बढ़कर 92.04 अंक पर पहुंच गया. वहीं कच्चे तेल का मानक माने जाने वाला ब्रेंट कच्चे तेल का वायदा भाव दो प्रतिशत बढ़कर 70.75 डालर प्रति बैरल पर हो गया.

वहीं रिलायंस सिक्युरिटीज के एक शोध नोट में कहा गया है, अमेरिका में 10 साल के बेंचमार्क बॉंड पत्र में मजबूती का रुख रहा जिसका ब्रेंट कच्चे तेल पर भी असर रहा और यह 70 डालर प्रति बैरल से ऊपर पहुंच गया है. वहीं निवेशकों की धारणा पर भी इसका असर रहा। बहरहाल, इक्विटी बाजार में विदेशी मुद्रा प्रवाह जारी रहने से गिरावट पर कुछ हद तक अंकुश रह सकता है.”