पांच राज्यों में हो रहे विधान सभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की आज बैठक नहीं होगी. इसके साथ ही तमिलनाडु, पुड्डुचेरी और केरल के उम्मीदवारों का नाम तय करने के लिए बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा को अधिकृत किया गया है. हालांकि बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति की कल आधी रात तक चली बैठक में बंगाल के 60 और असम के 50 उम्मीदवारों के नाम पर मुहर लगी. बीजेपी की दूसरी बैठक सात मार्च के बाद होगी. दूसरी तरफ टीएमसी और लेफ्ट भी आज ही उम्मीदवारों का एलान कर सकती हैं.

बता दें कि बीजेपी की गुरुवार देर रात हुई बैठक में बंगाल के 60 उम्मीदवारों के नाम को अंतिम रूप दिया जा चुका है. असम में भी गठबंधन को लेकर बातचीत होने के बाद 50 उम्मीदवारों के नाम को अंतिम रूप दे दिया गया है. पश्चिम बंगाल के उम्मीदवारों का एलान रविवार को पीएम की ब्रिगेड ग्राउंड में होने वाली रैली के बाद किया जाएगा.

वहीं तृणमूल कांग्रेस से बीजेपी में आए शुभेंदु अधिकारी ने बैठक में कहा कि अगर उन्हें नंदीग्राम से ममता बनर्जी के खिलाफ उतारा जाए तो वे कम से कम 50,000 वोट से मुख्यमंत्री को हराएँगे. नंदीग्राम, भवानीपुर समेत करीब 15 सीटों पर अंतिम फ़ैसला पीएम नरेंद्र मोदी, जे पी नड्डा और अमित शाह पर छोड़ा गया है.

वहीं दूसरी तरफ ममता बनर्जी भी आज सभी 294 उम्मीदवारों के नाम का एलान कर सकती हैं. ऐसी खबरें हैं कि टीएमसी इस बार 100 से ज्यादा नए चेहरों को मौका देने के मूड में है. उम्मीदवारों के एलान से पहले गुरुवार को टीएमसी में भी रणनीति को लेकर मैराथन बैठक की गई है, जिसमें ममता सरकार के दस सालों के काम, विवाद खत्म करने और लोकसभा में अच्छा प्रदर्शन नहीं करने वाले इलाकों में जनसंपर्क बढ़ाने पर जोर देने को कहा गया है. ममता बनर्जी नंदीग्राम से गुरुवार महाशिवरात्रि के दिन नामांकन भर सकती हैं.