उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ के अकराबाद क्षेत्र में 14 वर्षिय दलित किशोरी की हत्या का पुलिस ने आज खुलासा कर दिया है. पुलिस ने मामले में पड़ौस के गांव धौराइ में रहने वाले एक नाबालिक किशोर को गिरफ्तार किया है. आरोपी युवक ने कबूल किया है कि उसके द्वारा युवती के साथ रैप का प्रयास किया था. दुष्कर्म में असफल होने पर उसने युवती की दुपट्टे से गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद उसके शव को गेंहू के खेत मे फेककर घटना स्थल से फरार हो गया. पकड़े गए युवक की निशानदेही पर पुलिस ने युवती की चप्पल एवं अन्य सामान बरामद किया है. आईजी पीयूष मोर्डिया ने आज प्रेस वार्ता कर इस हत्याकांड का खुलासा किया.

बता दें कि अकराबाद क्षेत्र के गांव किवलास में रविवार शाम अपनी नानी के साथ रह रही एक नाबालिग किशोरी का शव गेंहू के खेत में पड़ा मिला था. किशोरी अपने घर से बकरियों के लिए चारा लेने के लिए खेत पर गई थी. लेकिन जब शाम तक वापस नहीं लौटी तो परिजनों व गांव वालों ने उसको तलाश करना शुरू किया. तलाशी के बाद युवती का शव एक गेंहू के खेत में पड़ा मिला था. पुलिस को भी मामले की सूचना दी गई. घटनास्थल पर डॉग स्क्वायड और फोरेंसिक टीम भी पहुँची थी. जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने किशोरी के शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाने की कोशिश की तो गांव वालों ने पहले मामले का खुलासा करने के लिए गांव के रास्ते पर सूखा करब डालकर आग लगाते हुए पुलिस पर पथराव भी किया था. जिसमें इंस्पेक्टर गंगीरी को चोट भी आई थी.

वहीं रविवार को हुए इस हत्याकांड के बाद अलीगढ़ पुलिस की पांच टीमें इस मामले के खुलासे में लग गई थी. तो वहीं पुलिस ने घटना का खुलासा करने के लिए 5 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी गई थी. जिसके बाद आखिरकार आज अलीगढ़ पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा कर दिया.

आईजी ने बताया कि किशोरी के जाने के रास्ते में वहां खेतों पर काम करने वाले कुछ लोगों से पूछताछ की. उनमें से जब एक नाबालिग किशोर पर शक गया तो उसको गिरफ्त में लेकर उससे पूछताछ शुरू की गई. पूछताछ में किशोर ने घटना को स्वीकार करते हुए बताया कि 28 फरवरी को सुबह लगभग 7:00 बजे अपने घर से खेत पर पानी लगाने के लिए गया था. उसके बाद अपने घर आया और दोपहर में दोबारा अपने चाचा की बाइक से अपने तहेरे भाई के साथ खेत पर दोबारा गया था.

जिसके बाद वहीं बैठकर वह अपने मोबाइल में ब्लू फिल्म देखने लगा. लगभग 12:00 किवलास गांव की किशोरी जो अपने नानी के पास रहती थी और मानसिक रूप से कमजोर व बोल नहीं पाती थी, वह किशोरी खेत की मेड पर पानी पीने के लिए आई. इसको देखकर नाबालिग किशोर की नियत खराब हो गई. वह घास के बहाने उसको जय सिंह के खेत पर ले गया। नाबालिक किशोर ने उसके बाद मृतका किशोरी के साथ अप्राकृतिक सेक्स करने का प्रयास किया तो उसने अपना मुंह बंद कर लिया. किशोर ने उसका मुंह खोलने का बहुत प्रयास किया। जब उसने मुंह नहीं खोला तो उसने गुस्से में आकर उसका मुंह दबा दिया और वह तड़पने लगी. बाद में उसने उसका दुपट्टे से ही उसका गला दबा दिया. जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई.