अलीगढ़ के क्वार्सी क्षेत्र के सरोज नगर कॉलोनी में शुक्रवार को देर शाम हुई लूट और हत्या की वारदात में कोई और नहीं,बल्कि खुद ज्वेलर्स का बेटा ही पूरी कहानी का मास्टरमाइंड निकला. बेटे योगेश ने अपनी प्रेमिका पत्नी सोनम उर्फ चित्रा यानि घर की बहुरानी सहित अपने दोस्त तनुज और दोस्त की प्रेमिका रिन्नी उर्फ शैलजा चौहान संग मिलकर इस पूरी वारदात को अपने ही घर में घुसकर घटना को अंजाम दिया. मां की हत्या करने के बाद घर के अन्दर रखा करोड़ों रुपये का सामान सहित सोने और चांदी के जेवरात को लूट ले गया. पुलिस ने इस मामले में पूछताछ के बाद एक करोड़ से ज्यादा माल बरामद कर लिया है.

पुलिस ने पूछताछ के बाद आरोपी बेटे व पत्नी दोस्त और उसकी प्रेमिका सहित चार लोगो को लूट व हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है. पूछताछ में आरोपी बेटे ने बताया कि 19 फरवरी 2021 की दोपहर लगभग 1:00 बजे प्लान के अनुसार योगेश अपने दोस्त के साथ अपने घर पहुंचा. उस समय योगेश की मां कंचन घर में अकेली मौजूद थी. मां ने दरवाजा खोला तो उसने मां को बताया कि घर में उसके कुछ कपड़े हैं जो उसको लेने हैं. अंदर आकर योगेश और उसके दोस्त तनुज ने पहले मां की गर्दन दबा कर हत्या की और उस को बाथरूम में बंद कर दिया. उसके बाद उन्होंने घर में ही रखे हथौड़ी से लॉकर को तोड़कर एक करोड रुपए से ज्यादा की गहने व रुपए निकाल लिए. साथ ही जाते समय उन्होंने घर का सामान अस्त-व्यस्त कर दिया और गैस का पाइप भी काट दिया. दोनों लोग जब घर के अंदर थे तो घर के बाहर रिनी उर्फ शैलजा उनकी निगरानी कर रही थी. घटना के बाद तीनों ही लोग वहां से फरार हो गए.

वहीं शहर में इतनी बड़ी घटना होने के बाद सर्राफा कारोबारियों ने अपनी-अपनी दुकानें बंद रखकर विरोध प्रकट किया था. साथ ही अधिकारियों से मिलकर जल्द ही खुलासे की मांग की थी, अन्यथा अनिश्चितकालीन दुकान बंद करने का भी ऐलान किया था. पुलिस के ऊपर जल्द से जल्द घटना का खुलासा करने का दबाव था.

पुलिस ने घटना के बाद इलाके में लगे सीसीटीवी की मदद से कुछ महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे. जिसके आधार पर पुलिस ने म्रतक महिला कंचन वर्मा के बेटे योगेश उर्फ राजा, उसकी प्रेमिका पत्नी सोनम उर्फ चित्रा निवासी नगला मसानी थाना देहली गेट, दोस्त तनुज चौधरी, दोस्त तनुज की प्रेमिका रिन्नी उर्फ शैलजा को हिरासत में लेकर लूट का पूरा माल सोने चांदी हीरे के आभूषण जिनकी कीमत करीब एक करोड़ रुपये व 1 लाख नकद रुपये बरामद किया है.

एसएसपी मुनिराज जी ने जानकारी देते हुए कहा ज्वैलर कुलदीप वर्मा का बेटा योगेश अपनी प्रेमिका के साथ अलग रहता था, माँ बाप बेटे की इस बात से नाराज रहते और खर्चा भी नहीं देते थे. लूट के दौरान पहचान होने के डर से योगेश ने अपनी मां कंचन वर्मा को मारकर दिया.