कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज पुदुच्चेरी दौरे पर जा रहे हैं. राहुल के वहां पहुंचने से पहले ही कांग्रेस पार्टी को तगड़ा झटका लगा है. मुख्यमंत्री वी नारायणसामी के करीबी माने जाने वाले विधायक ए जॉन कुमार ने इस्तीफा दे दिया है. ए जॉन 2019 के उपचुनाव में कामराज नगर सीट से विधायक चुने गए थे. जॉन के इस्तीफे के बाद पुदुच्चेरी में संवैधानिक संकट खड़ा हो गया है क्योंकि राज्य में अब कांग्रेस की गठबंधन सरकार अल्पमत में आ गई है.

बता दें कि चार विधायकों के इस्तीफे के बाद 33 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस का संख्या बल 10 रह गया है, जिसमें अध्यक्ष भी शामिल हैं. कांग्रेस के साथ सरकार में शामिल सहयोगी डीएमके के तीन सदस्य हैं. जबकि एक निर्दलीय विधायक का समर्थन भी सरकार को हासिल है. विपक्ष के पास 14 विधायक हैं यानि सरकार और विपक्ष के विधायकों की संख्या अब बराबर हो गई है.

वहीं अब विपक्ष ने मुख्यमंत्री वी नारायणसामी से इस्तीफा मांगते हुए कहा कि सरकार अल्पमत में है. पुदुच्चेरी की 33 सदस्यीय विधानसभा में अब विपक्ष के सदस्यों की संख्या भी 14 है. इस सबके बावजूद नारायणसामी ने विपक्ष की मांग को खारिज करते हुए दावा किया कि उनकी सरकार को सदन में ‘बहुमत’ हासिल है. उल्लेखनीय है कि पुदुच्चेरी विधानसभा के लिए अगले कुछ महीनों में चुनाव होने वाले हैं.

तो वहीं दूसरी तरफ पुदुच्चेरी में उत्पन्न हुए राजनीतिक संकट के बीच उपराज्यपाल किरण बेदी को भी मंगलवार रात को अचानक उनके पद से हटा दिया गया. राष्ट्रपति भवन की ओर से जारी बयान में कहा गया कि राष्ट्रपति ने निर्देश दिया है कि किरण बेदी ‘‘अब पुदुच्चेरी की उपराज्यपाल नहीं रहेंगी’’. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने तेलंगाना की राज्यपाल तमिलिसाई सौंदर्यराजन को पुदुच्चेरी के उपराज्यपाल पद का अतिरिक्त प्रभार सौंपा है.