बंगाल में होने वाले विधानसाभ चुनाव में जय श्रीराम के बाद अब पाकिस्तान की एंट्री हो भी गई है. गुरुवार को अमित शाह ने बंगाल का दौरा किया तो ममता को जय श्रीराम के बहाने फिर बड़ी चुनौती दी. ममता जीस जय श्रीराम के नारे को सुनकर बौखला जाती हैं. उसी जय श्रीराम के जय घोष के साथ अमित शाह ने कूचबिहार से अपने चुनावी रथ को रवाना किया.

बता दें कि कूचबिहार में अमित शाह ने कहा, “ये बंगाल के अंदर माहौल ऐसा कर दिया कि जय श्रीराम बोलना गुनाह है. बंगाल में नहीं तो क्या पाकिस्तान में जय श्रीराम बोला जाएगा. ममता दीदी को अपमान लगता है. क्यों लगता है ममता दीदी? दुनियाभर में करोड़ों लोग हमारे आराध्य श्रीराम को याद करके गौरव महसूस करते हैं. लेकिन आपको तकलीफ होती है क्योंकि आपको तुष्टिकरण करके एक समुदाय विशेष का वोट चाहिए. मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि चुनाव खत्म होते होते ममता दीदी भी जय श्रीराम बोलेंगी.”

साल 2014 के बाद से कई चुनावों में राष्ट्रवाद, पाकिस्तान का मुद्दा उठा है. 2019 लोकसभा चुनाव में पाकिस्तान का मुद्दा कई मंचों से जोर शोर से उठा. बिहार में 2020 में हुए विधानसभा चुनावों में भी पाकिस्तान का जिक्र हुआ. 2017 के यूपी चुनावों में सर्जिकल स्ट्राइक और पाकिस्तान का जिक्र हुआ. इसी तरह 2017 में गुजरात चुनावों में भी पाकिस्तान का जिक्र हुआ. 2017 में हुए पंजाब चुनाव में भी पाकिस्तान का जिक्र हुआ. बंगाल की राजनीति में हिंदु मुसलमान का मुद्दा अभी जोर पकड़ रहा है और अब पाकिस्तान का मुद्दा भी एंट्री कर चुका है. आने वाले दिनों में बंगाल में ये मुद्दा भी चुनावी रैलियों में जोर-शोर से उठता नजर आ सकता है.