उत्तराखंड के चमोली में बीते रविवार को हुए ग्लेशियर विस्फोट के बाद मची तबाही के चलते अपनी जान गवाने वाले मृत आत्माओं की शांति के लिए आदिशक्ति मां विंध्यवासिनी से सटे कनकेश्वर महादेव पर हवन पूजन और शांति पाठ किया गया. बाबा भोले के दरबार में जुटे भक्तों ने मृत परिवार के सदस्यों को हौसला मिले और वह फिर से एक नए उत्साह के साथ अपना जीवन शुरू कर सकें.

बता दें कि आदिशक्ति मां विंध्यवासिनी से सटे संत ईश्वर महादेव मंदिर पर भक्तों ने उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर फटने के बाद मची तबाही में जान गंवाने वाले लोगों की आत्मा की शांति के लिए हवन, पूजन और पाठ कर श्रद्धांजलि दिया. शांति पाठ के लिए जुटे शिव भक्तों ने कहां की इस बड़ी त्रासदी मैं मरने वाले लोगों की न केवल आत्मा की शांति के लिए पाठ किया गया बल्कि उनकी मौत से दुखी परिजनों की हौसला अफजाई के लिए भी प्रार्थना कीजिए.