अवैध शराब की सूचना पर दबिश देने गये दरोगा और सिपाही की शराब माफियाओं ने जमकर पिटाई करते हुए वर्दी भी फाड़कर फेक दी. देवेंद्र सिपाही को उपचार को ले जाते हुए रास्ते में ही दम तोड़ दिया. वहीं घायल दरोगा अशोक कुमार का मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है. शराब माफियाओ ने दरोगा अशोक कुमार की छाती की पसलियो सहित शरीर की हड्डियो को भी तोड़ दिया. कासगंज के थाना सिढ़पुरा इलाके के गांव मे हुऐ इस कांड ने एक बार फिर कानपुर मे हुऐ बिकरू कांड को दोहराया गया है.

बता दें कि कासगंज के सिढपुरा थाना क्षेत्र के गांव नगला धीमर और नगला भिकारी में अवैध शराब की सूचना पर कार्यवाही को निकले सिढपुरा थाने के दरोगा और एक सिपाही की शराब माफियाओं ने जमकर पिटाई की जिसमें सिपाही देवेंद्र की मौत हो गई जबकि दरोगा अशोक कुमार को गंभीर अवस्था में अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज लाया गया. घायल दरोगा का मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है. दरोगा के परिवार के लोग उनके साथ मौजूद हैं.

वहीं घायल दरोगा के पिता रामप्रकाश ने बताया कि इनकी पोस्टिंग कासगंज में थी. वहां से यह दबिश में गए थे. वहां दबिश में उन लोगों ने इनके साथ मारपीट की है. इनकी हालत ज्यादा खराब है. अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज में भर्ती है.

मामले पर अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज के सुपरिटेंडेंट डॉ हारिस मनसूर ने बताया कि अशोक कुमार नाम है यह कल रात आए थे यहां पर, उनको मल्टीपल इंजरी थी. उसके चेस्ट में इंजरी थी जिसकी वजह से सीटीवीएस वाले उन को देख रहे हैं. उनके पैर में फैक्चर है उसकी सर्जरी होगी और अभी इनके हेड इंजरी भी है. ज्यादा मेजर नहीं लग रही है सीटी स्कैन हो रहा है फिर न्यूरो सर्जन वालों को दिखाया जाएगा.