चौरी चौरा कांड के 100 वर्ष पूर्ण होने पर शहीदों की स्मृति में अलीगढ़ के भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा स्थल पर स्वच्छता अभियान चलाकर मूर्ति को स्नान कराते हुए चौरा चोरी कांड का शताब्दी वर्ष मनाया.

उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ में चौरा चोरी कांड के 100 वर्ष पूर्ण होने पर शहीदों की स्मृति में भारतीय जनता युवा मोर्चा शताब्दी वर्ष मना रही है. आज इसी उपलक्ष में भारतीय जनता युवा मोर्चा संगठन के जिलाध्यक्ष मुकेश लोधी व अन्य कार्यकर्ताओं द्वारा सुभाष चौराहे पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी की प्रतिमा स्थल पर स्वच्छता अभियान के अंतर्गत साफ सफाई की गई व सुभाष चंद्र बोस की मूर्ति को स्नान भी कराया। इस मौके पर नोएडा के एमएलसी श्रीचंद शर्मा भी मौजूद रहे.

वहीं मीडिया से बात करते हुए एमएलसी श्री चंद शर्मा ने बताया कि आज चौरा चौरी की घटना के परिपेक्ष में उस घटना को 100 वर्ष पूरे होने जा रहे हैं। यह देश गुलामी की जंजीरों से मुक्त होना चाहता था और असहयोग आंदोलन चल रहा था. उस दौरान चोरा चोरी में एक संघर्ष हुआ था. संघर्ष में विरोध स्वरूप जनता ने थाने को फूंक दिया था. उसमें 22 पुलिसकर्मी मारे गए थे और 3 आम नागरिक मारे गए थे, वह 4 फरवरी की घटना थी.

हालांकि गांधी जी ने बाद में अपना असहयोग आंदोलन बंद कर दिया था. उस घटना का पंडित मदन मोहन मालवीय जी ने मुकदमा लड़ा था और जिन लोगों पर मुकदमे लगाए गए थे उनका मुकदमा खत्म करवा दिया था. उसके स्मृति में आज का यह कार्यक्रम हमारे योगी आदित्यनाथ जी के आह्वान पर पूरे प्रदेश में मनाया जा रहा है. आज मोदी जी एक डाक टिकट भी जारी कर रहे हैं। आज हम शहीदों की स्मारकों पर जा रहे हैं. हमारे युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने यहां पर आकर सुभाष चंद्र बोस जी की मूर्ति को स्नान कराया और उनको याद किया. ऐसे शहीद जिन्होंने देश को आजाद कराने में अपनी कुर्बानिया दी उनको याद करने के लिए आज हम यहां पर एकत्रित हुए हैं.