यूपी के बागपत जनपद में किसान आंदोलन को पुलिस ने देर रात खत्म करा दिया. दिल्ली-सहारनपुर हाइवे पर धरने पर बैठे किसानों को प्रशासन ने वहां से हटा दिया है. पुलिस की कार्रवाई का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें पुलिस किसानों को भगाती नजर आ रही है. वहीं इस कार्रवाई के दौरान हाइवे पर पुलिस बल के साथ-साथ आला अधिकारी मौजूद रहे.

बता दें कि ये मामल बड़ौत कोतवाली क्षेत्र के दिल्ली-सहारनपुर हाइवे 709 का है, जहां लंबे समय से कृषि कानून के विरोध में चल रहे धरने को देर रात हटवा दिया गया है. कल सुबह से ही आला अधिकारी और किसानों के बीच वार्ता चल रही थी, और किसानों ने न उठने का फैसला किया था, लेकिन देर रात धरना स्थल पर भारी पुलिस फोर्स पहुंच गई .और आंदोलनकारियों को भगा दिया गया.

आपको बता दें कि पुलिस ने जेसीबी के माध्यम से हाइवे पर लगाए गए सीमेंट के बेरिकेड को भी मौके से हटवा दिया है. वहीं पुलिस की कार्रवाई के वक्त मौजूद किसानों ने वीडियो शूट कर वायरल कर दिया, जिसमें पुलिस कर्मी डंडे के सहारे धरने पर बैठे लोगों को उठाते और उनके पीछे भागते हुए नजर आ रहे हैं, जबकि एडीएम का कहना है कि हमने बल .का प्रयोग नहीं किया.

वहीं इस मामले में एडीएम अमित कुमार ने कहा कि आंदोलन के कारण एनएचएआई को काफी दिक्कत हो रही थी, एनएचएआई ने चिट्ठी लिखी थी, इसी चिट्ठी के आधार पर हमने किसानों से आंदोलन खत्म करने की अपील की थी, कई किसान चले भी गए थे, देर रात कुछ 4-5 बुजुर्ग थे, उन्हें हटाकर घर भेज दिया गया, बल का प्रयोग नहीं किया गया है.