आम आदमी पार्टी ने अगले दो साल में देश के 6 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में हिस्सा लेने का फैसला किया है . ये राज्य है- उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, गुजरात, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब. दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी के संयोजक अरविंद केजरीवाल नेशनल काउसलिंग की बैठक में ये ऐलान किया है.

बता दें कि 15 दिसंबर को केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया था. केजरीवाल ने कहा था कि आदमी पार्टी ने लगातार तीसरी बार दिल्ली में सरकार बनाई है, और दिल्ली में काम करके दिखाया है. दिल्ली के लोगों को मुफ्त बिजली, पानी मिल रहा है, मोहल्ला क्लीनिक से इलाज मिल रहा है तो ऐसा गोरखपुर, लखनऊ और यूपी के अन्य शहरों में क्यों नहीं हो सकता है.

वहीं इस मौके पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आजकल हमारे देश का किसान बहुत दुखी है. 70 साल से सभी पार्टियों ने मिलकर किसानों को धोखा दिया है, कभी कहते थे किसानों का लोन माफ करेंगे, लेकिन किसी ने भी कर्ज माफ नहीं किया, किसानों के बच्चों को नौकरी देने का वादा किया, लेकिन नौकरी नहीं दी, पिछले 25 साल में साढ़े 3 लाख किसान आत्महत्या कर चुके हैं

साथ ही सीएम अरविंद केजरीवाल ने 26 जनवरी को हुई हिंसा का जिक्र करते हुए कहा कि ये दुर्भाग्यपूर्ण थी, किसानों पर फर्जी केस पर केस लगाए जा रहे हैं, जो भी पार्टी इसके लिए असल में ज़िम्मेदार है उसे सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए, लेकिन उस दिन हिंसा हुई, इस वज़ह से किसानों के मुद्दे ख़त्म नहीं हो गए है, वो मुद्दे आज भी बरकरार हैं.