उत्तर प्रदेश के जिले अलीगढ़ की बन्ना देवी पुलिस ने 15 जनवरी को हुई ट्रक लूट और हेल्पर की हत्या का खुलासा किया है. पुलिस ने मामले में तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है तो वही एक अभियुक्त अभी फरार है. पकड़े गए इन सभी अभियुक्तों पर पूर्व में भी मुकदमे अलग-अलग थानों में पंजीकृत हैं. घटना का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को अधिकारियों ने इनाम की घोषणा की है.

दरअसल बीती 15 जनवरी को रात 8:00 बजे ट्रक मालिक सुरेंद्र सिंह ने पुलिस को सूचना दी कि उसका हेल्पर ट्रक में लदी लोहे की पत्ती जिसकी कीमत लगभग 15 लाख रुपए सहित गायब हो गया है. सूचना पर थाना बन्नादेवी पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी . पुलिस को हेल्पर दौलत राम निवासी थाना पाली मुकीमपुर जिला अलीगढ़ का शव थाना छाता जिला मथुरा में तो वही गायब हुआ ट्रक नौझील जिला मथुरा के अंदर बिना माल के मिला था.

बता दें कि एसएसपी अलीगढ़ ने घटना के खुलासे के लिए एक टीम गठित कर दी गई. पुलिस जब एक मुखबिर की सूचना पर चेकिंग कर रही थी, उसी दौरान पुलिस ने एक अभियुक्त प्रकाश को तमंचे सहित व एक अशोक लेलैंड ट्रक जिसमें तीन बंडल लोहे की पत्ती लदी हुई थी साथ गिरफ्तार किया गया. पुलिस पूछताछ के दौरान पकड़े गए आरोपी प्रकाश ने बताया कि उसने अपने साथी बॉबी निवासी खैर के साथ मिलकर ट्रक लूट की घटना कर हेल्पर की हत्या कर उसका शव मथुरा में फेंक दिया था. प्रकाश की सूचना पर पुलिस ने लूटा गया बाकी माल भी बरामद कर लिया तथा इस माल को रखने वाले दो अन्य उनके साथी राहुल और सुनील को भी गिरफ्तार कर लिया. उक्त घटना में पुलिस ने कुल 3 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है जबकि एक अभियुक्त अभी मौके से फरार है. फरार होने वाला अभियुक्त बॉबी शर्मा थाना खैर छेत्र के खैर कस्बे का रहने वाला है.