अलीगढ़ के देहली गेट थाना क्षेत्र के शाहजमाल की पुरानी ईदगाह मे अवैध निर्माण होने की सूचना पर देर रात पहुंची पुलिस पर जबरन ताले तोड़कर ईदगाह में प्रवेश करने व चौकीदार के साथ मारपीट करने का आरोप लगाते हुए इलाके के लोगों ने जाम लगाने की कोशिश की व हंगामा किया। पुलिस ने कहा कि किसी की पिटाई नहीं की गई बल्कि अफवाह फैलाई गई है उसके खिलाफ कार्रवाई करेंगे.

दरअसल आरोप है कि कल देर रात थाना देहली गेट इलाके स्थित ईदगाह में पुलिस द्वारा गेट को तोड़ कर प्रवेश किया गया. वहां पर चौकीदारी करने वाले युवक अब्दुल समद से मारपीट की गई. इसके उपरांत पुलिस वहाँ से चली गयी. सुबह जब इस मामले की जानकारी स्थानीय लोगो को हुई तो इन्होंने विरोध जताया और जाम लगाने की कोशिश की. लोगों ने पुलिस के खिलाफ हंगामा भी किया. मौके पर शहर मुफ्ती भी पहुंच गए. शहर मुफ़्ती ने लोगो को समझाया ओर उच्च अधिकारियों से बात करने की बात कही है.

वहीं पुलिस मारपीट में मुंह पर लात लगने के बाद घायल युवक अब्दुल समद ने बताया कि देर रात 12 बजे के करीब जब वह ईदगाह के अंदर सोया हुआ था. उसी दौरान पुलिस वाले गाली गलौज कर जूते पहने पुलिस फोर्स काफी तादात में मस्जिद के अंदर पहुंचे। जिसके बाद पुलिस वालो ने मुंह के ऊपर लात मारी गई. और ईदगाह के अंदर चल रहे काम को बंद करने की चेतावनी दी गई.

बता दें कि थाना दिल्ली गेट इलाके के अंदर काफी समय से बिना नक्शा पास कराए एक मस्जिद बनाई जा रही थी. लेकिन इस मस्जिद का नक्शा पास नहीं था. जिसकी वजह से इस मस्जिद के अंदर चल रहे निर्माण काम रोक दिया गया. तो वही नक्शा पास ना होने की वजह से मस्जिद का निर्माण कार्य काफी दिनों से बंद पड़ा हुआ था। देर रात पुरानी ईदगाह पर करीब 12:00 बजे इलाका पुलिस जेसीबी मशीन के साथ पुरानी ईदगाह पहुंची। और मस्जिद के गेट के साथ इलाका पुलिस द्वारा छेड़छाड़ की गई.

जिस पर अलीगढ़ के सिटी मजिस्ट्रेट विनीत कुमार सिंह ने बताया कि पुरानी ईदगाह में एक मस्जिद का निर्माण किया जा रहा था. जिसको प्रशासन के द्वारा रुकवाया गया था. क्योंकि उसने कुछ कानूनी प्रक्रिया पालन नहीं किया जा रहा था. नियमो का पालन करने के पश्चात ही निर्माण करने करने की बात कही थी. उसको रूटीन में जब पुलिस निरीक्षण करने पहुंची. कल शाम को तो कुछ लोगों द्वारा अफवाह फैलाई गई कि यहां पर रात में पुलिस ने मारपीट की. उसी को लेकर भीड़ इकट्ठा हुई है. लोगों को समझा दिया गया है कि ऐसा नहीं हुआ है। पुलिस केवल निरीक्षण करने गई थी और कोई ऐसा वाकया नहीं हुआ.

वहीं इस पूरे मामले पर अलीगढ़ के एसपी सिटी कुलदीप गुनावत ने बताया कि आज सुबह थाना दिल्ली गेट के शाहजमाल मे कुछ शरारती तत्वों ने माहौल खराब करने के उद्देश्य से यह अफवाह फैलाई थी कि पुलिस द्वारा एक निर्माणाधीन मस्जिद में घुस कर मारपीट की गई है. इसकी वजह से काफी लोग जमा हुए। पुलिस मौके पर पहुंची और उनको समझाया कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई है. फिलहाल हालात पूरी तरह से पुलिस के कंट्रोल मे है. जिन लोगों ने यह अफवाह फैला माहौल खराब करने की कोशिश की गई है उन लोगों की पुलिस के द्वारा पहचान की जा रही है. पकड़े जाने के बाद दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी.