मुंबई में एक बेहद ही दिलचस्प मामला सामने आया है. जहां मुंबई पुलिस ने एक ऐसे आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज किया है. जो अपनी गाड़ी पर बिजनेसमैन रतन टाटा के कार का नंबर इस्तेमाल कर रही थी. जब रतन टाटा को मुंबई पुलिस ने ट्रैफिक नियमों का उल्‍लंघन करने के लिए ई-चालान का मैसेज भेजा तो टाटा समूह के अधिकारी हरकत में आ गए. रतन टाटा अपनी कार के नियमों के उल्‍लंघन और जुर्माने के मैसेज पर हैरत में पड़ गए.

इसके बाद टाटा ग्रुप के अधिकारियों ने मुंबई पुलिस से इस मामले पर बात की. वहीं, अधिकारियों ने मुंबई पुलिस को बताया कि उनकी कार ने कभी ट्रैफिक नियमों की अनदेखी नहीं की है. जिसके बाद मुंबई पुलिस ने जांच की तो मामले की सच्‍चाई सामने आई.

बता दें कि मुंबई पुलिस की जांच में पता चला कि एक महिला रतन टाटा की कार की नंबर प्‍लेट का इस्‍तेमाल कर रही है. दरअसल, उसे एक ज्‍योतिषी ने बताया था कि वह एक खास नंबर की प्‍लेट का इस्‍तेमाल करे. पुलिस के मुताबिक, महिला को यह नहीं पता है कि वह रतन टाटा की कार की नंबर प्‍लेट लगाकर घूम रही है. पुलिस ने बताया कि रतन टाटा की टीम के मुताबिक उनकी कार चालान वाली जगह से गुजरी ही नहीं थी. इसके बाद पुलिस ने हर उस जगह के सीसीटीवी फुटेज खंगाल डाले, जहां उस नंबर वाली गाड़ी ने ट्रैफिक नियमों का उल्‍लंघन किया था. काफी जांच के बाद आखिर कर उस गाड़ी का पता चल गया.

वहीं इस मामले में पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला के खिलाफ आईपीसी की धारा-420, 465 और सेंट्रल मोटर व्हीकल एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है. आज उसे पुछताछ के लिए थाने बुलाया गया. आरोपी महिला अंक ज्‍योतिष पर विश्‍वास करने के चक्‍कर में सलाखों के पीछे पहुंच गई है. मुंबई पुलिस ने बताया कि ट्रैफिक नियम के उल्‍लंघन का मामला वर्ली इलाके का था. आरोपी महिला की कार मेसर्स नरेंद्र फॉरवर्ड प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर रजिस्टर है.