उत्तर प्रदेश के मिर्ज़ापुर में बीजेपी नेता गुड्डू चौबे की हत्या के मामले की पुलिस जांच से असंतुष्ट ग्रामीणों ने सीबीसीआईडी जांच की मांग को लेकर शनिवार को किसान संवाद कार्यक्रम के बाद जमकर हंगामा किया. कार्यक्रम के बाद जैसे ही जिले से सांसद और अपना दल नेता अनुप्रिया पटेल और प्रभारी मंत्री निकलने लगे आक्रोशित परिजनों और ग्रामीणों ने सांसद की गाड़ी को घेर लिया. आधे घंटे तक सांसद की गाड़ी के आगे परिजन खड़े रहे इस दौरान डीएम ,एसपी और सांसद के काफी समझाने के बाद भी परिजन मुख्यमंत्री से बात कराने को लेकर अड़े रहे.

वहीं हंगामा बढ़ते देख गाड़ी से उतर कर सांसद अनुप्रिया पटेल ने परिजनों से बात की और कार्यवाही का आश्वासन दिया. जहां प्रशासन ने परिजनों को बुलाकर वार्ता के लिए कहा, तब जा कर बहुत मुश्किल से ग्रामीण और परिजन माने, और इसके बाद सांसद अनुप्रिया पटेल की गाड़ी रवाना हो सकी.

बता दें कि मार्च 2019 में विंध्याचल थाना क्षेत्र के सीतापुर कुंड के पास बीजेपी नेता संतोष कुमार चौबे उर्फ गुड्डू चौबे की हत्या के बाद से अभी तक सही आरोपियों को गिरफ्तार न किए जाने पर आक्रोशित परिजन इस मामले की सीबी सीआईडी जांच की मांग कर रहे है. छानवे ब्लाक में पूर्व प्रधान मंत्री स्व0 अटल विहारी बाजपेयी के जन्मदिवस पर आयोजित कार्यक्रम में सामिल होने के बाद सांसद और मंत्री वापस लौट रहे थे. उसी समय हत्या के मामले की पुलिस जांच से असंतुष्ट परिजनों और ग्रामीणों ने सांसद की गाड़ी को घेर लिया.