जहां इस समय पूरे देश में किसानों के समर्थन में धरना प्रदर्शन हो रहा हैं, तो वहीं उत्तर प्रदेश के जनपद शाहजहाँपुर में धरना देने जा रहे सपा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. इसी क्रम में शाहजहाँपुर से सपा के जिला अध्यक्ष तनवीर खां सहित सैकड़ों कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया. जिसके बाद पुलिस सभी को बसों में भरकर पुलिस लाइन ले गई. तो वहीं भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने भी अर्धनग्न और जंजीरों में जकड़ कर धरना प्रदर्शन किया है.

बता दें कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एव पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आवाह्न पर देश के किसानों के समर्थन में सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां के नेतृत्व में सभी तहसीलों से कल धरना प्रदर्शन की तैयारी थी, लेकिन शाहजहाँपुर प्रशासन की सख़्ती के आगे समाजवादी पार्टी के नेताओं की एक न चली और उन्हें उनके ही घरों से गिरफ़्तार कर लिया गया.

वहीं शाहजहाँपुर समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष तनवीर खां ने कहा कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव द्वारा 14 दिसम्बर को किसानों के समर्थन में सभी सपा कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों को शान्तिपूर्ण धरना देने का निर्देश दिया गया था. लेकिन पुलिस ने उनके घर से ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया. तनवीर खां ने कहा कि एक और जहां देश के किसानों को समर्थन मूल्य मिलना चाहिए, वहां उन्हें निर्धारित मूल्य नहीं मिल रहा है. जिसके विरोध में देश के हर प्रदेश में 7 दिसम्बर से लगातार किसान यात्राएं निकाली जा रही हैं, और विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है.

इसी के चलते ही कल यूपी के शाहजहाँपुर में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं और किसान यूनियन के नेताओं ने बड़ी तादाद में अपने 2 संसाधनों से एवं पैदल मार्च व बस और मोटरसाइकिल साईकिल से प्रदर्शन किया. किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली में धरना प्रदर्शन कर रहे, किसानों के समर्थन में यहाँ जोरदार प्रदर्शन किया और अर्धनग्न होकर जंजीरों में जकड़कर आवाज़ उठाई है.

तो वहीं शाहजहाँपुर के सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां ने कहा कि केंद्र और यूपी सरकार,झूंठ पर झूंठ बोलती जा रही है. और योगी मोदी सरकार ने झूंठ बोलकर सभी को गुमराह किया है. वह चाहें किसान हो या आम जनता सभी को ठगने का कार्य किया है. आज सड़कों पर ठिठुरते हुए किसान आन्दोलन कारियों की जायज मांगों को लेकर सरकार हठीलापन का रवैया अपनाए हुए है. भाजपा सरकार के कुशासन व किसान विरोधी नीतियों से प्रदेश का किसान बेहाल और परेशान है. किसानों को उनकी फ़सल का निर्धारित मूल्य नहीं मिल रहा है. सपा जिलाध्यक्ष तनवीर खां ने कहा कि भाजपा सरकार को किसानों की समस्याओं और शंकाओं का निराकरण कर उन्हें उनकी मांगों को मानना चाहिए