नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन आज 20 दिन हो गए हैं. वहीं दिल्ली-एनसीआर में पारा लगातार गिरता जा रहा है, लेकिन किसानों की मांगों पर गतिरोध बढ़ता ही जा रहा है. इसी दौर में उत्तर प्रदेश के जनपद सम्भल में समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्र रहमान वर्क कृषि बिल के विरोध में प्रदर्शन करने से रोके जाने पर केंद्र और प्रदेश सरकार पर एक वार फिर भड़क गए है.

वहीं सांसद शफीकुर्र रहमान बर्क ने कहा है कि बीजेपी सरकार देश की हुक्मरानी के लायक नहीं है. एसपी सांसद ने अपने ब्यान में कहा है, कि बीजीपी सरकार ने कृषि बिल का कानून लाकर दुनिया को यह बता दिया है, कि बीजेपी और आरएसएस देश की हुक्म रानी के लायक नहीं है. साथ ही एसपी सांसद शफीकुर्र रहमान वर्क ने राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर बीजेपी सरकार को तुरंत बर्खास्त कर देश में राष्ट्रपति शासन लागू करने की मांग की है.

जहां एसपी सांसद शफीकुर्र रहमान वर्क द्वारा अपने आवास पर की गई प्रेस कांफ्रेंस मे कृषि बिल को काला कानून बताते हुए, बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा. साथ ही शफीकुर्र ने बयान देते हुए कहा बीजेपी सरकार ने कृषि बिल का काला कानून लाकर दुनिया को यह बता दिया है कि बीजेपी और आरएसएस हुक्मरानी के लायक नहीं है. एसपी सांसद ने राष्ट्रपति से केंद्र सरकार को तुरंत बर्खास्त कर देश में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग भी की है.

उनका कहना है कि क्योंकि किसान सड़क पर भूखा मर रहा है ठिठुर रहा है किसानों की सिसकियां हमें बुला रही है, लेकिन हम लोगो को हाउस अरेस्ट कर दिया गया है, इसके बाबजूद हम किसानों के साथ है हमारी पार्टी और हम किसानों के लिए कोई भी कुर्बानी देने से पीछे नहीं हटेंगे. सरकार को काला कानून कृषि बिल बापस लेना ही होगा सरकार जितना जल्दी हो सके पर्लियामेंट बुलाकर उस विल को बापस ले अन्यथा किसानों के साथ हमारा भी आंदोलन जारी रहेगा.