अलीगढ़ में कल नगर निगम की लापरवाही से एक व्यक्ति की जान चली गई. घटना उस वक्त हुई जब मृतक सुबह दूध लेकर वापस मोटरसाइकिल से घर की तरफ जा रहे थे. तभी रास्ते में एक गड्ढे में उनकी मोटरसाइकिल फस गई और उसको निकालने के चक्कर में मोटरसाइकिल पलट गई. जिसके बाद उनकी मौत हो गई. घटना के बाद मृतक के परिजनों ने जाम लगा दिया. रविवार होने की वजह से कोई भी अधिकारी वहां काफी देर तक नहीं पहुंचा. वहीं घटना का वीडियो पास ही लगे एक सीसीटीवी में कैद हो गया.

दरअसल दिल्ली गेट थाना क्षेत्र के रहने वाले राजीव गुप्ता पेशे से डॉक्टर हैं और रोजाना महेंद्र नगर में दूध लेने जाया करते थे. लेकिन पिछले कुछ दिनों से वहां नगर निगम द्वारा सीवर लाइन डलवाने का काम चल रहा है. जिसकी वजह से पूरी सड़क के बीच में गड्ढे हुए पड़े हैं. कल सुबह जब राजीव गुप्ता दूध लेकर वापस घर जाने के लिए बाइक पर सवार हुए तो थोड़ी दूर जाने पर उनकी बाइक एक गड्ढे में फस गई. थोड़ी देर तक उन्होंने बाइक निकालने के लिए जद्दोजहद की, लेकिन बाइक थोड़ी देर बाद पलट गई, और राजीव गुप्ता गिर गए. गिरने के बाद वह दोबारा नहीं उठे. वहां मौजूद कुछ लोगों ने मौके पर पहुंच कर देखा, जिसके बाद उनको उठाकर अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. घटना की सुनकर मृतक के परिजन भी मौके पर पहुंच गए और स्थानीय लोगों की मदद से नगर निगम की लापरवाही मानते हुए मौके पर जाम लगा दिया. मृतक की परिजनों को रो रो कर बुरा हाल है.

वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि गड्ढे खोदने से एक बड़ा हादसा हुआ है. नगर निगम की पूरी लापरवाही है. कल और भी कोई हादसा हो सकता है. लेकिन इतनी लापरवाही से यहां पर गड्ढे करके छोड़ दिए हैं. महीनों से गड्ढे हुए पड़े हैं. हम चाहते हैं इनके लिए कोई मुआवजा और नौकरी दी जाए क्योंकि परिवार की आर्थिक स्थिति काफी दयनीय है. हम चाहते हैं कि नगर निगम इनका भरण पोषण करें. जब तक हमारी मांग पूरी नहीं होती हम यहां पर धरना प्रदर्शन करते रहेंगे.

तो वहीं घटना के थोड़ी देर बाद ही घटना स्थाल पर राजनेताओं का आना शुरू हो गया. भारतीय जनता पार्टी की पूर्व मेयर शकुंतला भारती भी वहां पहुंच. थोड़ी देर बाद वहां पर कांग्रेस नेता आगा यूनिस भी पहुंच गए जिसको देखकर शकुंतला भारती आग बबूला हो गई और उन्होंने आगा यूनुस को अभद्र शब्दों में वहां से जाने के लिए कहा. हालांकि इसके बाद आगा यूनिस वहां से चले गए.

हालांकि काफी देर जाम लगाने के बाद मौके पर सिटी मजिस्ट्रेट और सीओ सिटी दोनों पहुंचे. उन्होंने लोगों को समझा-बुझाकर जाम खुलवाया. सिटी मजिस्ट्रेट ने बताया कि जल निगम के द्वारा जो पाइप लाइन खोदी गई थी उसकी वजह से एक राजीव कुमार गुप्ता जी की मौत हो गई है. परिवार के लोग आर्थिक सहायता चाहते हैं, उसमें जो भी नियमानुसार होगा उनको दिलवाई जाएगी.