राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है.  वहीं सोमवार को दिल्ली के सीएम केजरीवाल सिंधु बॉर्डर पहुंचे, और केजरीवाल ने यहां किसानों के मंगलवार को होने वाले भारत बंद के समर्थन का ऐलान किया. साथ ही अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम किसानों की हर मांग का समर्थन करते हैं, किसानों का मुद्दा और संघर्ष जायज है.  दिल्ली सरकार और हमारी पार्टी किसानों के संघर्ष में उनके साथ है. जब किसान बॉर्डर पर आए थे, तो केंद्र और दिल्ली पुलिस ने हमसे दिल्ली के 9 स्टेडियम जेल बनाने के लिए परमिशन मांगी थी.

वहीं केजरीवाल बोले कि हमारे ऊपर दबाव बनाया गया, लेकिन हमने कोई परमिशन नहीं दी. हमारी सरकार और हमारी पार्टी लगातार सेवादार की तरह किसानों की सेवा करने में लगे हुए हैं. मैं सेवादार के तौर पर .यहां आया हूं और किसानों की सेवा करने आया हूं. किसान लगातार मेहनत करके अन्न उगाता है, ऐसे में हमारा फर्ज है कि हम किसानों की सेवा करें. इसी के साथ ही केजरीवाल ने यहां किसानों से मुलाकात की, किसानों के लिए जो इंतजाम किए गए हैं उनका जायजा लिया और हर संभव मदद का भरोसा दिया.

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने यहां किसानों से मिलने के बाद कहा कि किसानों को जो सेवाएं दी जा रही हैं, हम उसका जायजा लेने आए थे. किसानों का कहना है कि वो देश के लिए बैठे हैं. अगर किसानों को दिक्कत हो रही है तो देश की हर पार्टी को समर्थन करना चाहिए.  बता दें कि इससे पहले दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन भी सिंधु बॉर्डर गए थे और किसानों से मुलाकात की थी. आम आदमी पार्टी पहले ही ऐलान कर चुकी है कि वो किसानों द्वारा बुलाए गए भारत बंद का समर्थन करते हैं और आठ दिसंबर को देश में प्रदर्शन करेंगे.