बिहार विधानसभा के पांच दिन के शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन सदन में प्रतिपक्ष नेता तेजस्वी यादव के तीखे सवालों पर सीएम नीतीश की प्रतिक्रिया से सूबे की सियासत गरमा गई है. वहीं अब इस मुद्दे पर नेताओ के वार-पलटवार का दौर शुरू हो गया है. इसी पर सदन में सीएम नीतीश के बर्ताव पर पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने आलोचना की और कहा कि सीएम नीतीश पगला गए हैं, इसलिए गुस्सा रहे.

जहां शुक्रवार राबड़ी देवी ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, ” अरे हमलोग सदन में सजेशन दिए थे, लेकिन उसपर कोई सुनवाई नहीं हुई. हम लोग विपक्ष में बैठे हैं इसलिए हमलोगों की आवाज को दबाया जाता है. कोई सुनवाई नहीं होती है.”साथ ही राबड़ी ने कहा, ” मुख्यमंत्री 15 साल से एक ही भाषण दे रहे हैं. हमलोग लगातार सुन रहे हैं. वो 24 घंटा काम करते हैं, इसलिए पगला गए हैं. इसलिए गुस्सा हो रहे हैं. उनको कौन जानता था देश में? हमलोगों को 75 सीट आया, उनको 43 आया. जनता ने हमारा साथ दिया है, उनको लात मारा है. सत्ता हमलोग का था, लेकिन हमलोगों से छीना गया है.”

बता दें कि बिहार विधानसभा के शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन राज्यपाल के अभिभाषण के बाद प्रतिपक्ष नेता तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर कुछ व्यक्तिगत टिप्पणी कर दी थी. ऐसे में तेजस्वी यादव के आरोपों से बौखलाये मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तेजस्वी पर जवाबी हमला करते हुए कहा था कि यह मेरे दोस्त का बेटा है इसलिए मैं अब तक चुप था. मैं इसके बाप की उम्र का हूँ. ये बकवास कर रहा है, झुठ बोलता है. वहीं गुस्से में नीतीश कुमार ने यह भी कहा कि तुमको डिप्टी सीएम किसने बनाया था? आप चार्जशीटेड हो, तुम क्या करते हो मैं सब जनता हूँ. 2017 में घोटाले के आरोप लगे थे तो क्यों नहीं एक्सप्लेन किये थे? सारे लोग तुम्हारी एक-एक बात जानते हैं.