राजधानी दिल्ली में कोरोना नियमों को लेकर ढिलाई बरतने पर प्रशासन ने बाजारों में कार्रवाई शुरू कर दी है. जिसके मद्देनजर उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने नांगलोई में जनता मार्केट को एक हफ्ते के लिए सील कर दिया है. जहां जिला प्रशासन की टीम ने यह कार्रवाई जनता मार्केट में की है. साथ ही जिला प्रशासन का कहना है कि अभी कई बाजारों में सीलिंग की कार्रवाई की जाएगी. जिला प्रशासन के मुताबिक जिन जिन बाजारों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया जा रहा है, वे बाजर सील किया जाएगा.

जानकारी के मुताबिक उत्तरी दिल्ली नगर निगम के रोहिणी जोन ने जनता मार्केट और पंजाबी बस्ती मार्केट में कार्रवाई की और इसे 30 नंवबर तक के लिए सील कर दिया गया है. वहीं नगर निगम के अधिकारियों ने कहा कि बार-बार निर्देशों और चेतावनियों के बावजूद रेहड़ी-पटरी वाले दोनों बाजारों में कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन किया जा रहा था. यहां पर लोग न तो मास्क लगा रहे थे और न ही सामाजिक दूरी का पालन कर रहे थे. जिसकी वजह से जिला प्रशासन और स्थानीय पुलिस की मदद से सबसे पहले अतिक्रमण हटाया गया और सड़क मार्ग अवरूद्ध कर रहे कई सामानों को जब्त कर लिया गया.

बता दें कि जिला प्रशासन ने पहली बार दिल्ली में कार्रवाई करते हुए नांगलोई में जनता मार्केट को 30 नवंबर तक के लिए सील कर दिया है. जहां इस निर्णय को लागू करने में नगर निगम, जिला प्रशासन ने एक साथ काम किया. साथ ही जिला प्रशासन ने दूसरे व्यापारियों को भी कहा है कि वे खुद तो कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करें साथ ही ग्राहकों को भी इसका पालन से करने को कहें.

वहीं अब दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण डरा रहा है. रविवार को दिल्ली में कोरोना के 6,746 नए मामले सामने आए और 121 लोगों की मौत हो गई, हालांकि इस दौरान 6,154 लोग ठीक भी हुए हैं. तो शनिवार को भी दिल्ली में कोविड के 5879 नए मामले सामने आए थे और 111 लोगों की मौत दर्ज की गई थी. वहीं इस बीच दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने 21 नवंबर को व्यापारियों को आश्वस्त करते हुए कहा था कि सरकार की मंशा बाजार को बंद करने की नहीं है. हालांकि दिल्ली सरकार ने ये तय किया था कि जिन बाजारों में कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन हो रहा है उसे अस्थायी तौर पर सील किया जाएगा.