बिहारी की सियासत चुनावों के बाद एक बार फिर से उबाल लेने लगी है. पहले एनडीए में सुशील मोदी के डिप्टी सीएम पद पर ग्रहण लगा, अब आरजेडी के सीनियर नेता शिवानंद तिवारी ने कांग्रेस पार्टी पर हमला किया है. जहां बिहार चुनाव में कांग्रेस ने 70 सीटों पर चुनाव लड़ा था, लेकिन पार्टी सिर्फ 19 सीटें ही जीतने में कामयाब हुई. अब कांग्रेस के इस प्रदर्शन पर आरजेडी के वरिष्ठ नेता शिवानंद ने कड़ी नाराजगी जताई है,  शिवानंद तिवारी ने कहा कि राहुल गांधी की कार्यशैली की वजह से बीजेपी को मदद मिल रही है, यहां बिहार में चुनाव चरम  पर था, उस समय राहुल गांधी शिमला में प्रियंका गांधी के घर पर पिकनिक मना रहे थे.

साथ ही उन्होंने कहा, “कांग्रेस महागठबंधन के लिए एक बेड़ी बन गई है. उन्होंने 70 उम्मीदवार मैदान में उतारे थे लेकिन 70 सार्वजनिक रैलियां भी नहीं कीं. राहुल गांधी 3 दिन के लिए आए, प्रियंका नहीं आईं, जो बिहार से अपरिचित थे वे यहां आए. यह सही नहीं है. शिवानंद तिवारी ने नाराजगी जताते हुए कहा, “मुझे लगता है कि केवल बिहार में ही ऐसा नहीं हुआ है. दूसरे राज्यों में भी कांग्रेस अधिक से अधिक सीटों की संख्या पर चुनाव लड़ने पर अधिक जोर देती है, लेकिन वे अधिक से अधिक संख्या में सीटें जीतने में विफल रहती है. कांग्रेस को इस बारे में सोचना चाहिए.

वहीं शिवानंद तिवारी ने कहा कि राहुल गांधी के घर बैठक हुई थी. इस बैठक में कपिल सिब्बल, शशि थरूर, मुकुल वासनिक, मनीष तिवारी ये सब लोग बैठे थे. सब लोगों ने चिट्ठी लिखी, ये सब जीवन भर कांग्रेस के प्रति ईमानदार हैं. इस तरह से आप पार्टी नहीं चला सकते  है. इस तरह से पार्टी चलती है क्या? कांग्रेस का जिस तरह से कारोबार चल रहा है उससे बीजेपी का फायदा ही हो रहा है.

आपको बता दें कि कांग्रेस ने महाठबंधन में आरजेडी और लेफ्ट पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. आरजेडी ने इस चुनाव में 75 सीटों पर जीत हासिल की. वहां सीपीआई  ने 29 सीटों पर चुनाव लड़ा और 12 सीटों पर जीत दर्ज करने में सफलता रही. लेकिन कांग्रेस 70 सीटों में से सिर्फ 19 ही सीट जात पाई.