बिहार चुनाव से सबक लेते हुए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने 2022 यूपी चुनाव के लिए अभी से रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है. उन्होंने अपने चाचा शिवपाल सिंह यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी से गठबंधन के संकेत देते हुए कहा है कि अगर मिलकर चुनाव लड़े और स्थिति बनी तो चाचा शिवपाल को कैबिनेट मंत्री बनाएंगे.

वहीं अखिलेश यादव ने स्पष्ट करते हुए कहा है कि चुनाव पूर्व सभी छोटी पार्टियों को साथ लेने की कोशिश की जाएगी. उन्होंने स्पष्ट कर दिया है कि वो यूपी चुनाव के लिए बीएसपी समेत किसी भी बड़ी पार्टी से गठबंधन नहीं करेंगे.

गौरतलब है कि सपा ने 2017 का यूपी विधानसभा चुनाव कांग्रेस के साथ मिलकर लड़ा था, बावजूद इसके पार्टी का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा था. अब जबकि हाल ही में कांग्रेस ने आरजेडी के साथ मिलकर बिहार में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है तो गठबंधनों में कांग्रेस की भूमिका पर भी काफी चर्चा हो रही है. इस बीच अखिलेश यादव ने साफ कर दिया है कि वो किसी बड़े दल के साथ मिलकर चुनाव नहीं लड़ेंगे.