अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चुनावी नतीजों को मानने के लिए तैयार नहीं हैं. अमेरिका की राजधानी वॉशिंगटन डीसी में सड़कों पर उनके हजारों समर्थक उतर आए हैं. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को समर्थन देने और राष्ट्रपति चुनाव के परिणामों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने वाले हजारों लोग शनिवार को सड़क पर उतर गए, और नारेबाजी करने लगे. व्हाइट हाउस के पास फ्रीडम प्लाजा में शनिवार सुबह से ही समर्थकों का जमावड़ा लगने लगा, दोपहर तक बड़ी संख्या में भीड़ जुटी रही.

बता दें कि वहां वीमेन फॉर अमेरिका फर्स्ट द्वारा एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था. जहां टी पार्टी के पूर्व कार्यकर्ता एमी क्रेमर लोगों का नेतृत्व कर रहे थे. क्रेमर ने शुक्रवार को प्लाजा में 10,000 लोगों के जमावड़े के लिए परमिट लिया था, जबकि इवेंट के पास तैनात नेशनल पार्क सर्विस के अधिकारियों ने द हिल को बताया कि वो भीड़ कितनी बड़ी है, इसपर नज़र नहीं रख रहे थे. हालांकि इससे कुछ नुकसान भी नहीं हुआ.

वहीं ट्रंप के समर्थकों का कहना है वे तभी संतुष्ट होंगे जब सभी राज्यों में मतपत्रों की दोबारा गिनती की जाएगी. इनका कहना है कि कई जगहों पर मृतकों के नाम से वोट डाला गया है. हालात को देखते हुए वॉशिंगटन डीसी में बड़े पैमाने पर पुलिस की तैनाती कर दी गई है. व्हाइट हाउस की सुरक्षा पहले से ही चाक चौबंद है. ट्रंप के विश्वस्त मंत्री माइक पोम्पिओ पहले ही कह चुके हैं कि राष्ट्रपति ट्रंप अपने अगले कार्यकाल की तैयारी कर रहे हैं.

आपको बता दें कि अमेरिका चुनाव में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को हार का सामना करना पड़ा था. जो बाइडेन की जीत के साथ ही उनका दोबारा राष्ट्रपति बनने का सपना टूट गया. जो बाइडेन इस जीत के बाद अपनी ख़ुशी लोगों के साथ शेयर की थी. वहीं, डोनाल्ड ट्रंप बार-बार वोटों की गिनती रोकने की अपील कर रहे थे, और कई जगह दोबार वोटों की गिनती करने की मांग कर रहे थे. उनका कहना था कि वोटों की गिनती में गड़बड़ी की जा रही है.