देश में हर रोज करीब 50 हजार के पास कोरोना के नए मामले दर्ज किए जा रहे हैं. हालांकि अच्छी बात ये है कि करीब इतने ही लोग हर दिन कोरोना से ठीक भी हो रहे हैं. जहां पिछले 24 घंटे में 44,879 नए केस सामने आए हैं. तो वहीं 547 लोग कोरोना से जिंदगी की जंग भी हार गए हैं. भारत में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 87 लाख 28 हजार हो गए हैं, वहीं अब तक एक लाख 28 हजार 668 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है. कुल एक्टिव केस की बात करें तो घटकर पांच लाख से भी कम पर आ गए हैं. पिछले 24 घंटे में एक्टिव केस की संख्या में 4747 की गिरावट आई है.

बता दें कि देश में अब तक कोरोना को कुल 81 लाख 15 हजार लोग मात देकर ठीक हो चुके हैं. वहीं पिछले 24 घंटे में 49,079 मरीज कोरोना से ठीक हुए. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के अनुसार, देश में 12 नवंबर तक कोरोना वायरस के लिए कुल 12 करोड़ 31 लाख सैंपल टेस्ट किए गए, जिनमें से 11 लाख सैंपल कल ही टेस्ट किए गए. भारत में प्रतिदिन 15 लाख टेस्ट करने की क्षमता के साथ पिछले 6 हफ़्तों में प्रतिदिन औसत 11 लाख से ज़्यादा टेस्ट हुए हैं

वहीं महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में कोरोना वायरस के एक्टिव केस, मृत्यु दर और रिकवरी रेट का प्रतिशत सबसे ज्यादा है. हालांकि राहत की बात ये है कि मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. साथ ही भारत में रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रहा है. फिलहाल देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.48 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट 93 फीसदी है. 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की मृत्य दर एक फीसदी से भी कम है.

बता दें कि एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का दूसरा स्थान है. तो वहीं कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया में दूसरा सबसे प्रभावित देश है. हालांकि रिकवरी भी दुनिया में सबसे ज्यादा भारत में ही हुई है. मौत के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत का नंबर आता है.
.