उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में हरदोई पुलिस के खिलाफ उत्पीड़न के मामले को लेकर एक परिवार पानी की टंकी पर चढ़ गया है. पिछले करीब 50 घंटे से अधिक से ये परिवार टंकी पर चढ़कर खुदकुशी करने की धमकी दे रहा है. जिसके बाद मामले को काबू में करने के लिए प्रशासन की ओर से एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम को बुलाया है.

वहीं प्रशासन के मुताबिक, शनिवार सुबह से ही ये परिवार पानी की टंकी पर चढ़ा है और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रहा है. एडीएम सिटी अशोक कनौजिया का कहना है कि लगातार इनसे बात की जा रही है, मौके पर हरदोई के एसडीएम और सीओ भी आए हुए हैं.

साथ ही जिला प्रशासन का कहना है कि इनकी ज्यादातर मांगों का निस्तारण कर दिया गया है, जितनी समस्याएं हैं उनको मौके पर जाकर भी हल किया गया है. हरदोई जिला बार एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष भी आये हुए हैं उनसे भी बात कराई जा रही है.

बता दें कि हरदोई निवासी वकील विजय प्रताप सिंह अपने परिवार के 5 सदस्यों के साथ प्रयागराज में बेली गांव पानी की टंकी पर चढ़े हुए हैं. परिवार के सदस्य ज्वलनशील पदार्थ लेकर धमकी दे रहे हैं और बात ना माने जाने पर टंकी से कूदने की बात कर रहे हैं. परिवार को टंकी पर चढ़े 51 घंटे से ज्यादा समय बीत गया है.

आपको बता दें कि विजय प्रताप सिंह के साथ पानी की टंकी पर दो महिलायें भी मौजूद हैं. पानी की टंकी पर चढ़े विजय प्रताप सिंह का आरोप है कि गांव के कुछ दबंग लगातार उनका उत्पीड़न कर रहे हैं, उनके डर से ये लोग गांव छोड़ने को मजबूर हो गए हैं. हरदोई प्रशासन तमाम शिकायतों के बाद भी इनकी मदद को तैयार नहीं है.

वहीं इनकी तरफ से 13 सूत्रीय मांग का पत्र भी प्रयागराज प्रशासन को सौंपा गया है, जिसमें तमाम मामलों की सीबीआई से जांच के अलावा इनके विरोधियों और हरदोई के डीएम-एसपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग शामिल है. इस बीच प्रशासन और पुलिस के अधिकारी कई बार परिवार से वार्ता कर नीचे उतरने के लिए मना चुके हैं. लेकिन उन्हें कोई सफलता नहीं मिली है, परिवार को नीचे उतारने के लिए रात भर प्रशासन ने नाइट विजन ड्रोन कैमरे से मॉनिटरिंग की है.

प्रशासन की ओर से वाराणसी से 57 सदस्यीय NDRF की टीम को भी बुला लिया गया है. मौके पर सेना की QRT भी मौजूद है. लेकिन टंकी पर चढ़े लोगों द्वारा अपने ऊपर पेट्रोल छिड़क लेने और आत्मदाह की धमकी देने की वजह से प्रशासन बार-बार बैकफुट पर आ रहा है.

वहीं इन लोगों को विजय प्रताप सिंह द्वारा समझाने-बुझाने का भी कोई असर इन पर नहीं हो रहा है. मौके पर फायर ब्रिगेड और एंबुलेंस भी बुला ली गई है और पानी की टंकी के नीचे जाल भी लगा दिया गया है. इसके पहले भी यह परिवार हरदोई और लखनऊ में भी इस तरह से पानी की टंकी पर चढ़कर हाई वोल्टेज ड्रामा कर चुका