यूपी के हाथरस में  ‘ बिटिया ‘ के साथ हुई घटना  सामने आने के बाद सम्भल जनपद के एसपी यमुना प्रसाद ने बेटियों और महिलाओ  की सुरक्षा और उनकी शिकायत पर तुरंत सुनवाई के लिए ” थाना चलो अभियान”और “मिशन शक्ति ” अभियान  की शुरुआत की है।  पुलिस बिभाग के इस थाना चलो अभियान और मिशन शक्ति के तहत  पुलिस  महिलाओ से संबाद कर उन्हें अपनी सुरक्षा और अधिकारों के प्रति जागरूक करेगी,  वहीं  पुलिस विभाग की इस सराहनीय पहल की जमकर तारीफ हो रही है i                                                

दरअसल यूपी के हाथरस में  बिटिया के साथ हुई घटना के बाद पुलिस की भूमिका पर भी लगातार सबाल उठ रहे है। यूपी पुलिस बेटियों और महिलाओ को उनकी सुरक्षा और थानों में त्वरित सुनबाई के लिए भरोसा पैदा करने के लिए लगातार प्रयास कर रही है, इसी मकसद  से सम्भल जनपद के एसपी यमुना प्रसाद ने महिलाओ  को जागरूक करने के लिए थाना चलो अभियान और मिशन शक्ति के तहत जनपद के थानों में महिला  सशक्ति करण गोष्ठियों के जरिये महिलाओ से संबाद कर उन्हें जागरूक करने की शुरुआत की है। एसपी यमुना प्रसाद की पहल पर शुक्रवार को जनपद के सभी थानों में  महिला सशक्ति करण गोष्ठियों का आयोजन  कर महिलाओ को  जागरूक किया गया।

वहीं चंदौसी कोतवाली में आयोजित  गोष्ठी में एसपी यमुना प्रसाद ने  स्वय  क्षेत्र की महिलाओ के साथ संवाद कर उन्हें जागरूक किया। एसपी यमुना प्रसाद ने महिलाओ को उनकी सुरक्षा और उनके अधिकारों की रक्षा का भरोसा दिलाते हुए कहा महिलाये अपने साथ किसी भी प्रकार का अन्याय ना होने दे ,पुलिस आपकी सुरक्षा के लिए है ,पीड़ित महिलाए भयमुक्त होकर थानों में अथवा महिलाओ की सुरक्षा को जारी किए गए हेल्प लाइन फोन नंबर बुमेन पावर  लाइन  1090  – डायल 112 –181  पर अपनी शिकायत दर्ज कराए । पुलिस विभाग की इस सराहनीय पहल की जमकर तारीफ हो रही है.

लेकिन अब देखना यह है,कि इस सरहानीय पहल के बाद भी पीड़ित महिलाओ  और बेटियों की सुनबाई के मामलो में पुलिस का रबैया  बदलता है या फिर नतीजा  हमेशा ढाक के तीन पात बाला ही रहेगा।