तमिलनाडु में एक्ट्रेस से नेता बनीं खुशबू सुंदर ने कांग्रेस पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. साथ ही कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी में खुशबू सुंदर ने पार्टी में बड़े स्तर पर बैठे लोगों पर दबाए जाने का आरोप लगाया है. वहीं कई मीडिया रिपोर्ट्स में यह भी दावा किया जा रहा है कि खुशबू सुंदर, भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकती हैं. खुशबू ने 2014 में डीएमके छोड़ उसकी गठबंधन पार्टी कांग्रेस का हाथ थामा था.

बता दें कि खुशबू सुंदर रविवार को दिल्ली के लिए रवाना हुईं. जिसके बाद सोमवार को खुशबू सुंदर ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया. अपने इस्तीफे में खुशबू सुंदर ने कहा कि बड़े पदों पर बैठ कुछ लोगों का जमीनी स्तर के लोगों से कोई जुड़ाव नहीं है या वे जानते नहीं हैं कि पार्टी की वास्तविक स्थिति क्या है.

साथ ही आपको यह भी बता दें कि खुशबू सुंदर राज्य में काफी लोकप्रिय रही हैं. हालांकि 2014 में कांग्रेस के सत्ता से बाहर होने के बाद से उनका राजनीतिक करियर का ग्राफ कुछ खास नहीं रहा है. यह तो साफ है कि बीजेपी तमिलनाडु में होने वाले 2021 के विधानसभा चुनावों के लिए चेहरा ढूंढ रही है. अभी भी पार्टी में कोई ऐसा बड़ा चेहरा नहीं है जो कि बीजेपी कि छवि को राज्य में बदल सकें. ऐसे में हो सकता है कि बीजेपी खुशबू सुंदर को अपनी पार्टी में शामिल कर उन्हें राज्य में पार्टी का चहर बनाए.

हालांकि लोकप्रिय स्टार खुशबू इससे पहले भी कई पार्टियों से जुड़ी हैं. वह 2010 में DMK में शामिल हुई थीं, जब DMK सत्ता में थी. उस समय, अभिनेत्री ने कहा था, “मुझे लगता है कि मैंने सही निर्णय लिया है. मुझे लोगों की सेवा करना बहुत पसंद है. मैं महिलाओं की भलाई के लिए काम करना चाहती हूं.” जिसके चार साल बाद ही उन्होंने डीएमके छोड़ कांग्रेस का हाथ थामा. 2014 में वह सोनिया गांधी से मिलने के बाद कांग्रेस में शामिल हो गईं. अभिनेत्री ने तब कहा था, मुझे लगता है कि मैं अपने घर में हूं. कांग्रेस एकमात्र ऐसी पार्टी है जो भारत के लोगों के लिए अच्छा कर सकती है और देश को एकजुट कर सकती है.