कोरोना काल के बीच कृषि बिल के खिलाफ किसानों ने आज भारत बंद बुलाया है. बता दें कि भारतीय किसान यूनियन समेत विभिन्न किसान संगठनों ने देशभर में चक्का जाम करने का ऐलान किया है. इसमें 31 संगठन शामिल हैं. किसानों को कांग्रेस, RJD, समाजवादी पार्टी, अकाली दल, AAP, TMC समेत कई पार्टियों का समर्थन मिल रहा है. बिहार में किसानों का प्रदर्शन सुबह से ही शुरू हो गया. बिहार के हाजीपुर में बंद का खासा असर देखने को मिल रहा है. प्रदर्शनकारियों ने गांधी सेतु के निकट NH-19 पर जाम लगा दिया और आगजनी की.

जानकारी के मुताबिक सडकों पर टायर जलाकर बंद समर्थक नारेबाजी करते देखे गए. गांधी सेतु के निकट कृषि बिल के विरोध में बैनर पोस्टर के साथ प्रदर्शनकारियों ने नारेबाजी की. पप्पू यादव की पार्टी जन अधिकार पार्टी के समर्थकों ने सड़क पर आगजनी की और राष्ट्रीय राजमार्ग को जाम कर दिया. उत्तर बिहार की लाइफ लाइन गांधी सेतु के पास राष्ट्रीय राजमार्ग पर गाड़ियों की रफ्तार थम गई. हाईवे पर लंबा जाम लग गया.

वहीं किसान बिल के विरोध में आरजेडी नेता और कार्यकर्ता राज्य भर के जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन करेंगे और बिल वापस लेने की मांग करेंगे. इधर, राजधानी पटना में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव एनडीए सरकार द्वारा किसान विरोधी विधेयक पास करने के खिलाफ अपने आवास से किसानों और समर्थकों के साथ विरोध प्रदर्शन करते हुए ट्रैक्टर चला कर पार्टी कार्यालय तक जाएं

बता दें कि वहीं दूसरी तरफ बिहार चुनाव को लेकर चुनाव आयोग आज बैठक करने वाला है. 12.30 बजे चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस होगी. माना जा रहा है कि चुनाव आयोग चुनाव की तारीखों का ऐलान करेगा. इसके साथ ही बिहार में हलचल और बढ़ जाएगी. कृषि बिल के रूप में विपक्ष को बैठे-बिठाए एक मुद्दा मिल गया है. वह इसके सहारे किसानों को अपने पक्ष में लाने की कोशिश में जुट गया है. आज हो रहे विरोध में आरजेडी जैसी पार्टियां सक्रिय भूमिका निभा रही हैं.