दिल्ली- देश की जानी- मानी शिक्षाविद्, संस्कृति संवाहक, अध्यक्ष सी सी आर टी संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार , नई दिल्ली ,पूर्व अध्यक्ष राज्य महिला आयोग, झारखंड , समाजसेवी ,महिला सशक्तिकरण में अग्रणी डॉ. हेमलता एस मोहन देश को प्रतिष्ठित ‘भारत कोकिला’ “डॉ. सरोजिनी नायडू अंतरराष्ट्रीय सम्मान 2020 ” से सम्मानित किया गया।

नोएडा के फिल्म सिटी स्थित एशियन अकेडमी ऑफ आर्टस के छठे ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल के अवसर पर संस्था के निदेशक डॉ संदीप मारवाह और आईसीएमआई के जनरल सेक्रेटरी श्री अशोक त्यागी द्वारा ऑनलाइन कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इस सम्मान समारोह में शामिल होने के लिए देश-विदेश से कई मेहमानों ने अपना योगदान दिया।

वहीं इस दौरान Asian Academy of arts एवं श्री संदीप मारवाह को आभार व्यक्त करते हुए डॉ. हेमलता ने बताया कि नए भारत के निर्माण में महिलाएँ अपनी भागीदारी बखूबी निभा रही हैं और उनकी स्थिति बृहत्तर हो रही है। आज एक सक्षम एवं दूरदर्शी नेतृत्व में भारत की बेटियां हर क्षेत्र में अग्रणी है। ये तभी संभव हो रहा है जब समाज अपना नजरिया बदल रहा है।

साथ ही उन्होंने कहा कि मैं कभी भी सम्मान पाने की चाह से अपना कार्य नहीं करती, बल्कि ये मेरा जुनून है ,तकरीबन साढे तीन दशक से ज़्यादा स्कूल के जरिए बच्चों पर मैंने अपना सर्वस्व न्यौछावर कर दिया। बच्चों के शैक्षिक, सामाजिक और सांस्कृतिक विकास के लिए ।मैं हमेशा कहती हूं जितनी जरूरी शिक्षा है उतना ही जरुरी है सामाजिक और सांस्कृतिक ज्ञान, कर्तव्य और कृतज्ञता की भावना ।

बता दें कि कोविड-19 के चलते इस बार का ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल ऑनलाइन किया गया।