बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण ने JNU यूनिवर्सिटी के कैंपस में जाकर स्टूडेंट्स के प्रोटेस्ट में हिस्सा बनकर सनसनी मचा दी है.  दीपिका का ये रुख सियासी गलियारों में भी चर्चा का विषय बन गया है. JNU हिंसा के खिलाफ प्रदर्शनकारी छात्रों के समर्थन में उतरीं दीपिका के कदम की जहां एक तरफ जमकर तारीफ हो रही है, तो वहीं दूसरी तरफ उनके विरोध में आवाज भी उठनने लगी है. सोशल मीडिया पर दीपिका के इस कदम को लेकर जमकर प्रतिक्रियाएं आ रही हैं.  इस लड़ाई में नेताओं से लेकर बॉलीवुड सितारे तक सब उतर आए हैं.

बता दें कि दीपिका की फिल्म छपाक इसी हफ्ते 10 जनवरी को रिलीज हो रही है.   इसी को  देखते सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने दीपिका के जेएनयू जाने को स्टंट करार दिया है. साथ ही कुछ लोगों ने दीपिका की फिल्म छपाक देखकर जेएनयू हिंसा के विरोध में खड़े होने की अपील की है. वही  मशहूर डायरेक्टर अनुराग कश्यप ने दीपिका के इस कदम की सराहना करते हुए लोगों से दीपिका की आने वाली फिल्म छपाक देखकर जेएनयू हिंसा के खिलाफ अपना समर्थन देने की अपील की है.

जहां दीपिका को उनके इस कदम के लिए लोगों का समर्थन मिल रहा है,  तो वहीं सत्ताधारी पार्टी बीजेपी की तरफ से आलोचना भी झेलनी पड़ी. बीजेपी नेताओं और प्रवक्ताओं ने दीपिका पादुकोण को जमकर घेरा. दिल्ली से बीजेपी नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने 1984 के सिख विरोधी दंगों को याद करते हुए दीपिका के जेएनयू जाने पर सवाल खड़े किए.

आपको बता दें कि जेएनयू में छात्रों पर हुए हमले में 36 छात्र जख्मी हुए. इसके बाद देशभर के कई विश्वविद्यालयों समेत कई जगह जेएनयू हिंसा के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया था. बॉलीवुड से भी जेएनयू छात्रों को समर्थन मिला था. एक्ट्रेस स्वरा भास्कर, शबाना आजमी, तापसी पन्नू और मोहम्मद जीशान अयूब व फिल्मकारों अर्पणा सेना एवं हंसल मेहता ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में हिंसा की निंदा की थी और दिल्ली पुलिस से हस्तक्षेप करने की अपील की. इसी के मदे नजर बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण भी आज इसके खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्रों का समर्थन करने विश्वविद्यालय पहुंची थी.